होम /न्यूज /तकनीक /स्टोरेज की चिंता दूर, अब 1TB क्लाउड स्पेस देगी गूगल, ज्यादा डेटा सेव कर सकेंगे यूजर्स

स्टोरेज की चिंता दूर, अब 1TB क्लाउड स्पेस देगी गूगल, ज्यादा डेटा सेव कर सकेंगे यूजर्स

 गूगल (फाइल फोटो)

गूगल (फाइल फोटो)

गूगल ने वर्कस्पेस इंडिविजुअल यूजर्स के लिए क्लाउड स्पेस को बढ़ा दिया है. यूजर्स अब 15GB की जगह 1TB स्टोरेज का इस्तेमाल ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

गूगल ने वर्कस्पेस इंडिविजुअल यूजर्स के लिए क्लाउड स्पेस को बढ़ा दिया है.
इसके साथ ही यूजर्स अब अपना ज्यादा डेटा को ऑनलाइन स्टोर कर सकेंगे.
इसके अलावा यूजर्स क्लाउड सर्विस पर बेहतर तरीके से काम कर सकेंगे.

नई दिल्ली. गूगल ने वर्कस्पेस इंडिविजुअल यूजर्स के लिए क्लाउड स्पेस को बढ़ा दिया है. वर्कस्पेस इंडिविजुअल यूजर्स अब 15GB की जगह 1TB स्टोरेज का इस्तेमाल कर सकेंगे. स्टोरेज बढ़ने के साथ ही यूजर्स अब अपना डेटा ऑनलाइन स्टोर कर सकेंगे और क्लाउड सर्विस पर बेहतर तरीके से काम कर सकेंगे. उल्लेखनीय है कि गूगल ने अपना वर्कस्पेस प्रोडक्टिवी प्रोग्राम पिछले साल सभी के लिए मुफ्त में उपलब्ध कराया था. वर्कस्पेस इंडिविजुअल अब यूजर्स के लिए अधिक स्टोरेज स्पेस के साथ उपलब्ध है.

बता दें कि गूगल वर्कस्पेस इंडिविजुअल उन ग्राहकों को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है, जो छोटा बिजनेस करते हैं और अपना काम मैनेज करने के लिए गूगल अकाउंट की मदद लेते हैं. इससे यूजर्स को अपना बिजनेस बढ़ाने और उसे मैनेज करने में मदद मिलेगी.

यह भी पढ़ें- Oneplus 10R 5G फोन बड़ा डिस्काउंट दे रही है अमेजन, अभी उठाएं ऑफर का फायदा

क्या है गूगल स्टोरेज?
कॉर्पोरेशन के मुताबिक कारोबार बढ़ाने के लिए ज्यादा से ज्यादा स्टोरेज की जरूरत होती है. इसके अलावा गूगल ड्राइव यूजर्स को किसी भी डिवाइस से सुरक्षित रूप से अपने डेटा तक एक्सेस कर सकेंगे है. हालांकि वर्कस्पेस इंडिविजुअल क्लाइंट के पास पहले से पर्याप्त स्टोरेज है, तो वे अन्य सेवाओं (वनड्राइव या ड्रॉपबॉक्स) का उपयोग नहीं कर सकेंगे.

यह भी पढ़ें- ब्लूटूथ इस्तेमाल करने वाले सावधान! ब्लूबगिंग के जरिए हैकर्स चुरा सकते हैं आपका डेटा, जानिए कैसे करें बचाव

कैसे बढ़ेगा स्टोरेज?
इंडिविजुअल यूजर्स को ऑटोमैटिकली 15GB से 1TB अपग्रेड मिल जाएगा. इसके लिए उन्हें कुछ करने की जरूरत नहीं है. अधिक स्टोरेज के लिए यूजर्स को केवल इंतजार करना होगा. वर्कस्पेस इंडिविजुअल सेवा को अभी फिलीपींस, थाईलैंड, इंडोनेशिया, मलेशिया, वियतनाम, ताइवान, पुर्तगाल, नीदरलैंड, बेल्जियम, फिनलैंड, ग्रीस और अर्जेंटीना में एक्सेस दिया गया है.

गूगल ड्राइव को मैलवेयर प्रोटेक्शन
बता दें कि यूजर्स को गूगल ड्राइव में सेव की गईं फाइल्स के लिए मैलवेयर, स्पैम और रैंसमवेयर जैसे खतरों से बिल्ट-इन प्रोटेक्शन और सुरक्षा मिलती है. साथ ही ड्राइव पर सेव किसी डॉक्यूमेंट को ओपेन या डाउनलोड करने की स्थिति में भी मैलवेयर का खतरा नहीं होता है. इतना ही नहीं गूगल ड्राइव को वेबसाइट के अलावा आप मोबाइल ऐप की मदद से स्मार्टफोन्स पर भी एक्सेस कर सकते हैं.

Tags: Gmail, Google, Tech news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें