अब Google ने अपने यूजर्स को मैसेजिंग ऐप में दिया Scheduling का ऑप्शन, जानिए कितने काम का है ये तरीका?

अब Google ने अपने यूजर्स को मैसेजिंग ऐप में दिया Scheduling का ऑप्शन
अब Google ने अपने यूजर्स को मैसेजिंग ऐप में दिया Scheduling का ऑप्शन

Google ने अपने मैसेजिंग ऐप शॉर्ट मैसेजेस में एक नया फीचर शामिल किया है. यूजर्स अब मैसेज को शेड्यूल भी कर पाएंगे. हालांकि अभी यह फीचर सभी के लिए रोल आउट नहीं हुआ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 5, 2020, 3:19 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. Google ने अपने मैसेजिंग ऐप शॉर्ट मैसेजेस में एक नया फीचर शामिल किया है. यूजर्स अब मैसेज को शेड्यूल भी कर पाएंगे. हालांकि अभी यह फीचर सभी के लिए रोल आउट नहीं हुआ है. ट्विटर पर एक यूजर ने ने मैसेज शेड्यूल के विकल्प को लेकर जानकारी दी. इस फीचर को पूरी तरह से सभी के लिए लॉन्च होने में कुछ सप्ताह का समय लग सकता है. नए फीचर के बारे में एक यूजर ने ट्विटर पर बताया और उसने एक स्क्रीन शॉट भी शेयर किया. यूजर्स को सेंड बटन को दबाकर रखना होगा.

इस पर शेड्यूल मैसेज का पॉप अप सामने आएगा. इसमें Later Today, Later Tonight और Tomorrow आदि ऑप्शन शामिल रहेंगे. इसके अलावा गूगल AI इन विकल्पों के लिए एक प्रीसेट टाइम चुनेगा. इसके अलावा यूजर्स अपनी पसंद के अनुसार कस्टम डेट का चयन भी कर सकते हैं. एक बार डेट और समय चुनने के बाद शेड्यूल ऑप्शन पर क्लिक करना होगा और आपका मैसेज शेड्यूल हो जाएगा. ऑल शेड्यूल मैसेजेज के पास एक घड़ी के रूप में आइकन दिखेगा उससे शेड्यूल मैसेज का पता चलेगा.

ये भी पढ़ें:- Airtel का शानदार ऑफर, एक प्लान को 8 यूजर्स कर सकेंगे इस्तेमाल



इसके अलावा गूगल का यह नया मैसेजिंग विकल्प यूजर्स को शेड्यूल किये गए मैसेज को डिलीट करने, अपडेट करने और उसी समय भेजने का विकल्प भी उपलब्ध कराएगा. इन सब चीजों का स्क्रीन शॉट ट्विटर पर एक यूजर ने डाला है. गूगल ने हाल ही में शॉर्ट मैसेजेज ऐप में ऑटोमेटिक कैटेगरी शामिल की थी. इस समय गूगल में लेनदेन, व्यक्तिगत, OTP और अन्य कुछ कैटेगरी उपलब्ध हैं. इसे सेटिंग्स में जाकर नियंत्रित और डिसेबल भी किया जा सकता है.
उल्लेखनीय है कि गूगल ने अपने प्रोडक्ट्स में कई तरह के बदलाव पिछले कुछ समय से किये हैं. उनमें जीमेल का आइकन बदलना हो, या गूगल मीट में कुछ नए फीचर शामिल करना हो. अपने हर प्रोडक्ट को आसान बनाने के लिए गूगल बदलाव करता रहता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज