इन 23 खतरनाक ऐप से यूजर का अकाउंट हो रहा खाली! मोबाइल से तुरंत करें डिलीट

इन 23 खतरनाक ऐप से यूजर का अकाउंट हो रहा खाली! मोबाइल से तुरंत करें डिलीट
ये ऐप्स हैं मोबाइल में तो हो जाएं सावधान

एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूजर्स के लिए एक बुरी खबर है. गूगल प्ले स्टोर पर ऐसे 23 खतरनाक एंड्रॉयड ऐप्स मिले हैं, जो यूजर्स को पता भी नहीं लगने देते और उनका अकाउंट खाली कर देते हैं. इन्हें तुरंत अपने मोबाइल से डिलीट करें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 26, 2020, 1:52 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मोबाइल ऐप्स के जरिए यूजर्स के साथ धोखाधड़ी के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. जिसके चलते एंड्रॉयड यूजर्स को एक बार फिर चेतावनी जारी करते हुए 23 मोबाइल ऐप्स को तुरंत हटाने की सलाह दी गई है. ये ऐप्स यूजर्स को पता तक नहीं लगने देते और उनका धीरे-धीरे अकाउंट खाली कर देते हैं. अगर आप भी एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूज करते हैं तो कुछ ऐप्स इंस्टॉल करने से पहले अलर्ट रहना जरूरी है. साइबर सिक्योरिटी और सॉफ्टवेयर फर्म Sophos के शोधकर्ताओं ने इन खतरनाक ऐप्स का खुलासा किया है. रिपोर्ट की मानें तो ये सभी फ्लेसवेयर (fleeceware) ऐप्स हैं और इन्होंने गूगल प्ले स्टोर की पॉलिसी का उल्लंघन किया है.

रिसर्चर जगदीश चंद्राइहा ने एक ब्लॉगपोस्ट में बताया कि गूगल में मिले इन ऐप के टर्म और फॉन्ट बहुत ही हल्के हैं जो पढ़ने में नहीं आते. हालांकि इसमें कुछ खामियां हैं जो कुछ खतरनाक कामों की अनुमति दे देते हैं.





देखें इन ऐप्स की पूरी लिस्ट- Sophos रिसर्चर्स ने 23 ऐप्स की लिस्ट जारी की है और उन्हें तुरंत मोबाइल से हटाने की सलाह दी है.
com.photoconverter.fileconverter.jpegconverter
com.recoverydeleted.recoveryphoto.photobackup
com.screenrecorder.gamerecorder.screenrecording
com.photogridmixer.instagrid
com.compressvideo.videoextractor
com.smartsearch.imagessearch
com.emmcs.wallpapper
com.wallpaper.work.application
com.gametris.wallpaper.application
com.tell.shortvideocom.csxykk.fontmoji
com.dev.palmistryastrology
com.video.magiciancom.el2020xstar.xstar
com.dev.furturescopecom.fortunemirror
com.itools.prankcallfreelitecom.isocial.fakechat
com.old.mecom.myreplica.celebritylikeme.pro
com.nineteen.pokeradar
com.pokemongo.ivgocalculatorcom.hy.gscanner

चंद्राइहा ने बताया कि फ्लेसवेयर एक प्रकार का मैलवेयर मोबाइल ऐप्लीकेशन है, जो छिपी हुई सब्सक्रिप्शन फीस के साथ आता है. ये ऐप्लीकेशन उन यूजर्स का फायदा उठाते हैं, जो नहीं जानते कि ऐप हटाने के बाद उन्हें सब्सक्रिप्शन किस तरह कैंसिल करना है. ये 'स्पैम सब्सक्रिप्शन' तकनीक का उपयोग करते हैं. यूजर्स गलती से एक बार साइन अप करता है तो उसे अलग-अलग ऐप के एक समूह के लिए सब्सक्राइब करने का आप्शन आता है. यूजर अनजाने में बटन पर क्लिक कर कई ऐप का सब्सक्रिप्शन ले लेता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज