लाइव टीवी

Google ने 600 ऐप्स को प्ले स्टोर से किया डिलीट, यूज़र्स के लिए हैं बेहद खतरनाक

News18Hindi
Updated: February 22, 2020, 3:07 PM IST
Google ने 600 ऐप्स को प्ले स्टोर से किया डिलीट, यूज़र्स के लिए हैं बेहद खतरनाक
File Photo

वायरस ऐप्स के डेवलपर्स का विज्ञापन पर क्लिक लेने का मकसद पैसे कमाना और कई बार डेटा चुराना भी होता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 22, 2020, 3:07 PM IST
  • Share this:
गूगल ने करीब 600 विवादास्पद एंड्रॉएड ऐप्स को अपने प्ले स्टोर (google play store) से हटा दिया है. साथ ही कंपनी ने यूज़र्स को क्लिक के माध्यम से विज्ञापन में फंसाने वाले ऐप्स के डेवलर्प्स को भी रिमूव कर दिया है. कंपनी के मुताबिक, उनकी विज्ञापन (ad-click apps) टीम के लिए एक एरिया में ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है. टीम का काम ऐप्स के बाहर दिखने वाले मैलिशियस विज्ञापन का पता लगाने के लिए नए तरीके खोजना है.

दरअसल ऐसी ऐप्स के डेवलपर्स का विज्ञापन पर क्लिक लेने का मकसद पैसे कमाना और कई बार डेटा चुराना भी होता है. कई बार ऐड-क्लिक से फोन के फंक्शन और GPS में भी गड़बड़ी आ जाती है. ऐसे में फर्जी ऐप्स यूज़र्स के खतरनाक साबित हो सकती है.  कंपनी ने कहा कि इस प्रकार का व्यवहर गूगल की पॉलिसी के खिलाफ है.

(ये भी पढ़ें-Jio लाया नया धमाकेदार प्लान, सिर्फ इतने के रिचार्ज पर पूरे साल पाएं अनिलिमिटेड सर्विस)

इसलिए गूगल ने एडमॉब (Admob) और प्ले स्टर से इन ऐप्स को हटा दिया है. गूगल ने आगे कहा कि हमारी जांच चल रही है और जैसे ही हमें उल्लंघन की बात पता चलेगी, हम कार्रवाई करना जारी रखेंगे.



इससे पहले डिलीट की गई 9 ऐप्स
इससे पहले ट्रेंड माइक्रो (Trend Micro) नाम की जापानी साइबर सिक्योरिटी कंपनी ने उन 9 ऐप्स के बारे में बताया था, जो यूज़र्स के फेसबुक और गूगल अकाउंट के डेटा के साथ छेड़छाड़ कर रही थीं. इन ऐप्स को करीब 4,70,000 बार डाउनलोड किया गया है.

(ये भी पढ़ें-Samsung के इस नए फोन के दीवाने हुए लोग, मिनटों में बिका 1 लाख से ज़्यादा कीमत वाला फोन)

खतरनाक ऐप्स की लिस्ट में शूट क्लीन, जंक क्लीनर, फोन बूसटर जैसी ऐप्स मौजूद हैं. साइबर सिक्योरिटी कंपनी का कहना है कि यह फर्जी ऐप्स खुक को ‘Speed Clean’ या ‘Super Clean’ नाम से छुपा लेती हैं. ये खुद को ऐसे पेश करती है कि ये आपके स्मार्टफोन्स से जंक फाइल को क्लीन करती हैं, लेकिन असल में यह फेक ऐप्स हैं.

ये है फर्जी ऐप्स की लिस्ट
-Shoot Clean-Junk Cleaner, Phone Booster, CPU Cooler- Super Clean Lite- Booster, Clean & CPU Cooler
- Super Clean-Phone Booster, Junk Cleaner & CPU Cooler
- Quick Games - H5 Game Center
- Rocket Cleaner
- Rocket Cleaner Lite
- Speed Clean-Phone Booster, Junk Cleaner & App Manager
- LinkWorldVPN

(ये भी पढ़ें- 12 हज़ार रुपये तक सस्ते हुए Samsung के तीन दमदार स्मार्टफोन्स, मिलेगा ट्रिपल कैमरा) 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऐप्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 22, 2020, 2:57 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर