होम /न्यूज /तकनीक /Google ने हटा दिया अपना ये ज़रूरी फीचर, एंड्रॉयड-iOS समेत वेब पर भी नहीं कर पाएंगे यूज़

Google ने हटा दिया अपना ये ज़रूरी फीचर, एंड्रॉयड-iOS समेत वेब पर भी नहीं कर पाएंगे यूज़

ग्राहक गूगल Meet के प्रीमियम फीचर्स का इस्तेमाल 30 सितंबर तक कर सकते हैं,

ग्राहक गूगल Meet के प्रीमियम फीचर्स का इस्तेमाल 30 सितंबर तक कर सकते हैं,

जानें कौन सा है गूगल का वह ज़रूरी फीचर, जिसका इस्तेमाल अब आप नहीं कर पाएंगे...

    गूगल (Google) ने अपनी पॉपुलर ऐप हैंगआउट्स (Hangouts) से एक ज़रूरी फीचर हटा दिया है. टेक दिग्गद गूगल ने बताया कि मैसेजिंग सर्विस (google messaging service) हैंगआउट पर अब यूज़र्स को लोकेशन शेयरिंग (location sharing feature) का फीचर नहीं मिलेगा. कंपनी का कहना है कि Google Hangout में ये फीचर बहुत ही बेसिक है और वह गूगल मैप की तरह रियल टाइम ट्रैकिंग देने में सक्षम नहीं है.

    यूज़र्स को ये फीचर टेक्सट फाइल के नीचे, स्टिकर के बगल में मिलता था. यूज़र्स को इसे सर्च करके और फिर मैप लोकेशन भेजनी होती थी. एक बार सेंट होने के बाद फुल-स्क्रीन मैप में नियरबाई प्लेस के साथ आपकी करेंट लोकेशन दिखने लगती थी.

    (ये भी पढ़ें- Xiaomi के इस 4 कैमरे वाले फोन की दीवानगी, कुछ सेकेंड में बिक गया पूरा स्टॉक)

    Google hangouts
    Google hangouts


    यूज़र्स इसमें लिस्टिंग के ज़रिए या फिर खुज पूरा पता टाइप कर सकते थें. इसके बाद हैंगआउट में मैप प्रीव्यू के साथ ‘use this place?’  लिखा मिलता था. सेंट होने के बाद रिसीवर को मोबाइल और वेब पर प्लेस मेकर के साथ इनलाइन मैप मिलता था, साथ ही मैप प्रीव्यू के साथ पूरा URL भी मिलता था.

    वेब पर भी नहीं करेगा सपोर्ट
    लेकिन अब गूगल ने जानकारी दी है कि हैंगआउट के अपडेट वर्जन 32.0 में ऐप से इस लोकेशन बटन को हटा दिया गया है. साथ ही अब ये iOS और वेब यूज़र्स को भी नहीं मिलेगा.

    (ये भी पढ़ें- COVID-19: आपके मोबाइल फोन से भी है वायरस फैलने का खतरा! ऐसे करें साफ)

    Tags: Google, Google apps

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें