Home /News /tech /

भूलने की बीमारी से छुटकारा दिला सकती है हेलमेट जैसी दिखने वाली ये खास डिवाइस, स्टडी में हुआ खुलासा

भूलने की बीमारी से छुटकारा दिला सकती है हेलमेट जैसी दिखने वाली ये खास डिवाइस, स्टडी में हुआ खुलासा

Credit: Durham University/North News & Pictures

Credit: Durham University/North News & Pictures

स्टडी में पाया गया कि एक समय में छह मिनट के लिए दिन में दो बार हेलमेट जैसी इस डिवाइस को पहनने से स्वस्थ वयस्कों में स्मृति, मोटर कार्य और मस्तिष्क प्रसंस्करण कौशल में वृद्धि होती है.

    इन्फ्रारेड लाइट थेरेपी (Infrared light therepy) डिमेंशिया (भूलने की बीमारी) से पीड़ित लोगों की मदद करने की क्षमता रखता है. इस बात का खुलासा एक रिसर्च में हुआ है. डरहम विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने एक ऐसा हेलमेट जैसा दिखने वाला डिवाइस बनाया है जो खोपड़ी के माध्यम से सीधे मस्तिष्क में प्रकाश डालता है. एक ट्रायल में पाया गया कि एक समय में छह मिनट के लिए दिन में दो बार हेलमेट पहनने से स्वस्थ वयस्कों में स्मृति, मोटर कार्य और मस्तिष्क प्रसंस्करण कौशल में वृद्धि होती है.

    वैज्ञानिकों ने कहा कि अगर परिणाम डिमेंशिया वाले लोगों में दोहराए गए तो ये लाइलाज बीमारी के खिलाफ लड़ाई में ‘गेम-चेंजर’ साबित हो सकता है. £7,250 का हेलमेट ‘फोटो बायोमॉड्यूलेशन’ नाम की एक प्रक्रिया के माध्यम से काम करता है जहां अवरक्त प्रकाश की दालों को मस्तिष्क में गहराई तक निर्देशित किया जाता है.

    इससे दिमागी तंतु और कोशिकाएं एक्टिव हो जाती हैं और स्मृति बढ़ जाती हैं. इस थेरेपी को ट्रांसक्रानियल फोटोबायोमोड्यूलेशन थेरेपी (PBM-T) नाम दिया है. हेलमेंट की तरह दिखने वाली डिवाइस तैयार करने के लिए डॉ. गार्डन डगल ने विशेष योगदान दिया. डॉ. पॉल का कहना है कि डिवाइस का व्यापक परिक्षण किया. एक महीने तक 45 साल तक के लोगों के ग्रुप बनाए गए. डॉ. डौगल ने कहा कि हेलमेट ‘मृत मस्तिष्क कोशिकाओं को एक बार फिर से काम करने वाली इकाइयों में पुन: उत्पन्न करने में मदद कर सकता है’.

    जानकारी के लिए बता दें कि फर्म मैक्युलम द्वारा विकसित पीबीएम-टी हेलमेट, 14 फैन-कूल्ड एलईडी लाइट एरेज़ से इंफ्रारेड लाइट देता है.

    228 लोगों पर हुआ अध्ययन
    पिछले साल अमेरिका में 228 लोगों पर किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि इन्फ्रारेड उपचार का हल्के से मध्यम डिमेंशिया वाले लोगों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा. यह शोध फोटोबायोमोड्यूलेशन, फोटोमेडिसिन एंड लेजर सर्जरी जर्नल में प्रकाशित हुआ है.

    Tags: Portable gadgets, Tech news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर