WhatsApp पर कितना सुरक्षित है आपका डेटा, जानिए Telegram कैसे है अलग?

डेटा सुरक्षा के मामले में व्हाट्सऐप या टेलीग्राम, क्या है बेहतर?
डेटा सुरक्षा के मामले में व्हाट्सऐप या टेलीग्राम, क्या है बेहतर?

बीते कुछ समय में WhatsApp Chat लीक होने के बाद कंपनी के एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन पॉलिसी को लेकर सवाल खड़े हो गए हैं. इस बीच व्हाट्सऐप की डाउनलोडिंग संख्या में ​भी गिरावट आई और Telegram यूजर्स की संख्या बढ़ी है. ऐसे में यह जानना जरूरी कौन सा प्लेटफॉर्म अधिक सुरक्षित है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 29, 2020, 8:51 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अगर आप इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप (WhatsApp) और टेलीग्राम (Telegram) या दोनों का ही इस्तेमाल करते हैं तो यह खबर आपके लिए जरूरी हो सकती है. हालांकि, बहुत कम लोग ही होंगे जिनके मोबाइल में ये दोनों ऐप्स न हो, लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि इन प्लेटफॉर्म पर भेजे जा रहा आपका निजी डेटा कितना सुरक्षित है? क्योंकि इन प्लेटफॉर्म से कई बॉलीवुड हस्तियों का गोपनीय डेटा लीक होने से संदेह और भी बढ़ गया है. जानते हैं आखिर ये दोनों प्लेटफॉर्म निजता (Privacy) के लिहाज से कितने सुरक्षित हैं.

व्हाट्सेएप के डाउनलोडिंग आंकड़ों में गिरावट
व्हाट्सऐप की एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन पॉलिसी (End-to-End Encryption Policy) यूजर्स को यह भरोसा दिलाती है कि प्लेटफॉर्म पर यूजर्स के अपने रिश्तेदारों, दोस्तों और सगे-संबंधियों को मैसेज कर उनका हाल-चाल लेने जैसी की गई चैट, तस्वीरें, वीडियो डेटा पूरी तरह से गोपनीय और सुरक्षित रखा जाता है, लेकिन व्हाट्सऐप की लीक होती चैट उसकी गोपनियता पर सवाल खड़ा करती है जिससे कारण लोग अब टेलीग्राम की ओर रुख कर रहे हैं. क्योंकि व्हाट्सऐप के डाउनलोडिंग आंकड़ों में बड़ी गिरावट देखने को मिली है.

तेजी से बढ़ रहे टेलीग्राम यूजर्स
वहीं, टेलीग्राम ने बताया है कि उसके 400 मिलियन मासिक यूजर्स (Telegram Users) हो चुके हैं जिसमें पिछले वर्ष से अब तक करीब 100 मिलियन यूजर्स की बढ़ोतरी हुई है. बता दें कि लगभग 1.5 मिलियन यूजर्स रोजाना टेलीग्राम डाउनलोड कर रहे हैं। आइए जानते हैं आखिर व्हाट्सएप और टेलीग्राम में क्या अंतर है?



यह भी पढ़ें:  WhatsApp भी खाली करा सकता है आपका बैंक अकाउंट, SBI ने करोड़ों ग्राहकों को किया अलर्ट



व्हाट्सएप और टेलीग्राम में क्या अंतर
1. टेलीग्राम में एक ऐसा फीचर होता है जिसमें यूजर्स के पास चैट का टाइमर सेट करने और उसे अपने समय अनुसार डिलीट करने का अधिकार होता है. सरल शब्दों में कहे तो मैसेज और तस्वीरें एक निर्दिष्ट अवधि में खुद ही डिलीट हो जाती हैं.

2. टेलीग्राम यूजर्स को उनकी चैट का स्क्रीनशॉट लेने के लिए एक नोटिफिकेशन और उनकी गोपनीय चैट फॉरवर्ड न करने के मैसेज भी प्राप्त होते हैं.

3. व्हाट्सऐप के विपरीत टेलीग्राम यूजर्स के पास एक यूजरनेम (Username) भी होता है जो कि यह सुनिश्चित करता है कि यूजर्स की पहचान सुरक्षित है.

4. टेलीग्राम में बिना किसी संपर्क नबंर (Contact Number) के भी बातचीत करना संभव है जैसा कि व्हाट्सऐप में ऐसी कोई सुविधा नहीं है.

5. इसके अलावा आप टेलीग्राम में 1.5 जीबी तक की कोई भी फाइल इसके माध्यम से भेज सकते हैं, लेकिन व्हाट्सऐप में वीडियो, तस्वीरें और डॉक्यूमेंट फाइलें सीमित रूप से भेजी जाती हैं.

हालांकि, टेलीग्राम के यह फीचर उसे आकर्षक चैटिंग एप बनाते हैं लेकिन व्हाट्सऐप पर 1.6 बिलियन से अधिक एक्टिव यूजर्स हैं. ग्रूप वीडियो कॉल फीचर, एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन और अधिक से अधिक यूजर्स के आधार पर चैटिंग एप व्हाट्सएप अभी भी लोगों के बीच अधिक लोकप्रिय बना हुआ है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज