लाइव टीवी

फेसबुक यूजर का डेटा मांगने के मामले में US सबसे आगे, भारत दूसरे स्थान पर

News18Hindi
Updated: November 15, 2019, 8:13 PM IST
फेसबुक यूजर का डेटा मांगने के मामले में US सबसे आगे, भारत दूसरे स्थान पर
फेसबुक यूजर डेटा

सरकारों द्वारा फेसबुक यूजर डेटा की मांग में 16 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखने को मिली है. ये जानकारी फेसबुक ने ही अपनी ट्रांसपेरेंसी रिपोर्ट में दी है

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 15, 2019, 8:13 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक पर पहले भी लोगों का डेटा चुराने और उनकी प्राइवेसी के साथ छेड़छाड़ करने जैसे गंभीर आरोप लग चुके हैं. साथ ही इस तरह की भी खबरें सामने आती रही हैं कि अलग-अलग देशों की सरकारें भी फेसबुक से यूजर डेटा की मांग करती हैं.

16 प्रतिशत बढ़ी मांग
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पिछले साल की दूसरी छमाही (जुलाई-दिसंबर 2018) की तुलना में इस साल की पहली छमाही (जनवरी-जून 2019) में सरकारों द्वारा फेसबुक यूजर डेटा की मांग में 16 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखने को मिली है. ये जानकारी फेसबुक ने ही अपनी ट्रांसपेरेंसी रिपोर्ट में दी है. जनवरी 2019 से जून, 2019 तक सरकारों की फेसबुक यूजर डेटा की डिमांड 1,28,617 रही है, जो कि फेसबुक की 2013 में जारी की गई, पहली ट्रांसपेरेंसी रिपोर्ट से लेकर अब तक जो भी रिपोर्ट्स जारी हुईं हैं, उनमें सबसे ज्यादा है.

कौन हैं टॉप 5

फेसबुक से यूजर का डेटा मांगने के मामले में अमेरिका टॉप पर है. वहीं भारत इस मामले में दूसरे स्थान पर है. जनवरी से जून, 2019 तक अमेरिकी सरकार ने यूजर के डेटा के लिए 50,714 रिक्वेस्ट्स भेजी हैं, जो कि पिछले साल की दूसरी छमाई के मुकाबले 23 प्रतिशत ज्यादा है. वहीं भारत ने जनवरी 2019 से जून 2019 के बीच 22,684 रिक्वेस्ट्स भेजी हैं. जब कि भारत ने पिछले साल की दूसरी छमाही (जुलाई-दिसंबर 2018) में 20,805 रिक्वेस्ट भेजीं थीं.

फेसबुक के डिप्टी जनरल काउंसेल क्रिस सोनडर्बी ने कहा है कि सबसे ज्यादा रिक्वेस्ट्स अमेरिका ने भेजीं हैं. इसके बाद भारत, यूके, जर्मनी और फिर फ्रांस है. यूनाइटेड किंग्डम ने 7,721 रिक्वेस्ट्स भेजीं हैं. वहीं जर्मनी ने 7,302 और पांववें स्थान पर फ्रांस ने यूजर डेटा की 5,782 रिक्वेस्ट्स भेजी हैं. पिछले साल के मुकाबले रिक्वेस्ट्स की ये संख्या 37 प्रतीशत बढ़ी है.

(इनपुट पीटीआई/भाषा)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 15, 2019, 8:13 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...