Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    Apple ने सितंबर तिमाही में की रिकॉर्ड कमाई, रेवेन्यू 6470 करोड़ डॉलर रहा

    एप्पल ने सितंबर तिमाही में भारत में अपने पहले ऑनलाइन स्टोर की शुरुआत की थी.
    एप्पल ने सितंबर तिमाही में भारत में अपने पहले ऑनलाइन स्टोर की शुरुआत की थी.

    आईफोन (iPhone) बनाने वाली कंपनी एप्पल (Apple) ने सितंबर तिमाही में रिकॉर्ड कमाई की है. कंपनी का रेवेन्यू सितंबर तिमाही में रिकॉर्ड 6470 करोड़ डॉलर रहा.

    • Share this:
    नई दिल्ली. आईफोन (iPhone) बनाने वाली कंपनी एप्पल (Apple) ने सितंबर तिमाही में रिकॉर्ड कमाई की है. कंपनी का रेवेन्यू सितंबर तिमाही में रिकॉर्ड 6470 करोड़ डॉलर रहा. कंपनी ने इस दौरान भारत समेत विभिन्न बाजारों में मजबूत प्रदर्शन किया.

    एप्पल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) टिम कुक ने परिणाम जारी करते हुए कहा, ''भौगोलिक क्षेत्र के लिहाज से हमने अमेरिका, यूरोप और पूरे एशिया प्रशांत में सितंबर तिमाही में रिकॉर्ड प्रदर्शन किया है. हमने भारत में भी सितंबर तिमाही में रिकॉर्ड प्रदर्शन किया. भारत में हमारे ऑनलाइन स्टोर की इस तिमाही में हुई शुरुआत को काफी अच्छी प्रतिक्रिया मिली.''

    चुनौतियों के बाद भी मजबूत उपस्थिति
    उल्लेखनीय है कि एप्पल ने सितंबर तिमाही में भारत में अपने पहले ऑनलाइन स्टोर की शुरुआत की थी. भारत में प्रीमियम श्रेणी में एप्पल की प्रतिस्पर्धा सैमसंग और वनप्लस जैसी कंपनियों के साथ है. कंपनी आक्रामक तरीके से भारतीय बाजार में अपनी उपस्थिति मजबूत कर रही है.
    भारतीय बाजार से बड़ा मुनाफा


    एप्पल ने विस्ट्रॉन और फॉक्सकॉन जैसे भागीदारों के साथ मिलकर हाल ही में भारत में आईफोन-11 को असेंबल करना शुरू किया है. शोध कंपनी कैनेलिस के मुताबिक, भारत पर नए सिरे से ध्यान देने से सितंबर तिमाही के दौरान कंपनी की बिक्री 10 प्रतिशत से अधिक दर से बढ़कर करीब आठ लाख इकाई रही.

    टाटा ग्रुप APPLE के लिए बनाएगा स्मार्टफोन कंपोनेंट
    गौरतलब है कि दुनिया की सबसे बड़ी स्मार्टफ़ोन बनाने वाली कंपनी एप्पल के पार्ट्स अब जल्द हिंदुस्तान में बनेंगे. टाटा ग्रुप ने इस काम के लिए तमिलनाडु में 5000 करोड़ रुपये की लागत से एक स्मार्टफोन कंपोनेंट मैन्युफैक्चरिंग यूनिट बना रही है. इस फैक्ट्री में आईफोन के अलावा एप्पल आईपैड, स्मार्टवॉच और मैकबुक के पार्ट्स भी बनाएगी. हालांकि, एप्पल की तरफ से अभी कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. वहीं, टाटा के प्रवक्ता ने बताया कि यह फैक्ट्री एक्सक्लूसिव तौर पर किसी खास ब्रांड के लिए फोन कंपोनेंट नहीं बनाएगी, बल्कि यह कई कंपनियों के लिए ऑर्डर मिलने पर फोन पार्ट्स का उत्पादन करेगी.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज