जेफ बेजोस की ये कंपनी पहली बार किसी महिला को चांद पर भेजेगी, तैयार कर रही खास इंजन

जेफ बेजोस

जेफ बेजोस

दुनिया के सबसे अमीर शख्स और ब्लू ओरिजिन (Blue Origin) कंपनी के संस्थापक जेफ बेजोस (Jeff Bezos) ने बताया कि पहली बार कोई महिला चांद की सतह पर जाएगी. इसके लिए ब्लू ओरिजिन द्वारा तैयार किए गए इंजन का इस्तेमाल होगा. बेजोस ने इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए यह जानकारी दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 6, 2020, 1:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दुनिया के सबसे अमीर शख्स जेफ बेजोस (Jeff Bezos) की स्पेस कंपनी ब्लू ओरिजिन (Blue Origin) पहली बार किसी महिला को चांद पर लेकर जाएगी. अमेरिकी स्पेस संस्था NASA साल 2024 तक प्राइवेट कंपनी द्वारा तैयार की गई लुनर लैंडर (Lunar Lander) भेजेगी. जिस इंजन की मदद से किसी महिला को पहली बार अंतरिक्ष में भेजा जाएगा, उसक नाम BE-7 है. बेजोस ने एक इंस्टाग्राम पोस्ट में इस बारे में जानकारी दी. इसी सप्ताह में नासा के मा​र्शल स्पेस फ्लाइट सेंटर में इस इंजन की टेस्टिंग हुई. बेजोस ने अपने पोस्ट में इस वीडियो को शेयर भी किया है. बीते कई सालों से ब्लू ओरिजिन इस BE-7 इंजन को तैयार कर रही है. अंतत: इस इंजन को भी 1,245 टेस्ट-फायर टाइम से मिलान किया गया है.

जेफ बेज़ोस ने अपने पोस्ट में लिखा, 'यही वो इंजन है, जो पहली बार किसी महिला को चांद की सतह पर ले जाएगा. BE-7 एक उच्च प्रदर्शन करने वाली लिक्विड हाइड्रोजन/ऑक्सीजन लुनर लैंडिंग इंजन है, जिसमें 10,000 lbf थ्रस्ट की क्षमता है.'

View this post on Instagram

A post shared by Jeff Bezos (@jeffbezos)




ब्लू ओरिजिन की 'नेशनल टीम' इस इंजन की प्राइवेट कॉन्ट्रैक्टर है, जिसने 2019 में इसे असेंबल किया है ताकि ब्लू मून लैंडर को तैयार किया जा सके. इस टीम में लॉकहीड मार्टीन कॉरपोरेशन, नॉथ्रॉप गुम्मन कॉर्प और ड्रेपर भी शामिल हैं.

यह भी पढ़ें: अरबों डॉलर बचाने के लिए California छोड़ रहे दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स Elon Musk, जानें कितनी होगी बचत

नासा से कॉन्ट्रैक्ट हासिल करने की तैयारी



बीते कई साल से जेफ बेजोस की कंपनी ब्लू ओरिजिन ने सरकारी कॉन्ट्रैक्ट्स के लिए दावेदारी पेश कर रही है. उनकी यह कंपनी ​अरबपति इलॉन मस्क (Elon Musk) के SpaceX और Leidos Holdings Inc की Dynetics से मुकाबला कर रही है ताकि उनकी इस कंपनी को ह्यूमन लुनर लैंडिंग सिस्टम (Human Lunar Landing System) का कॉन्ट्रैक्ट मिल सके.

अप्रैल में NASA ने ब्लू ओरिजिन को लुनर लैंडर डेवलपमेंट कॉन्ट्रैक्ट (Lunar Lander Developmet Contract) को 579 मिलियन डॉलर में दिया था. स्पेसएक्स को 135 मिलियन डॉलर और डायनेटिक्स को 253 मिलियन डॉलर में स्टारशिप सिस्टम को तैयार करने का कॉन्ट्रैक्ट मिला.

यह भी पढ़ें: सबसे ज्यादा सैलरी पाने वाले बैंकर थे आदित्य पुरी, अब उनके परिवार ने 50 करोड़ में खरीदा आलीशान घर

नासा की चिंता बढ़ी

मार्च 2021 तक इनमें से किसी दो कंपनियों को NASA चुनेगा और फिर उनके लैंडर प्रोटोटाइप को तैयार किया जाएगा. 2024 तक इस लुनर मिशन को पूरा किया जाना है. लेकिन अमेरिकी कांग्रेस द्वारा लैंडिंग सिस्टम के लिए अपर्याप्त फंड ने इस मिशन को ​लेकर अनिश्चितता बढ़ा दी है. साथ ही जो बाइडन प्रशासन (Biden Administration) के अंतरिक्ष अभियानों के नजरिये ने नासा के इस प्रोग्राम में दरी को लेकर चिंता बढ़ा दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज