लाइव टीवी

Jio ने लॉन्च किया दुनिया का पहला नेटिव वीडियो कॉल असिस्टेंट

News18Hindi
Updated: October 14, 2019, 6:05 PM IST
Jio ने लॉन्च किया दुनिया का पहला नेटिव वीडियो कॉल असिस्टेंट
इसके लिए किसी भी तरह का कोई ऐप इन्स्टॉल नहीं करना पड़ेगा. यह जियो वीडियो कॉल असिस्टेंट कस्टमर सपोर्ट के मामले में क्रांति ला सकता है

इस इनोवेटिव कस्टमर इंगेजमेंट वीडियो असिस्टमेंट सोल्यूशन (Innovative Customer Engagement Assistant) को जियो ने यूएस बेस्ड कंपनी रेडिसिस (Radisys) के साथ मिलकर विकसित किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2019, 6:05 PM IST
  • Share this:
नई दिल्लीः इंडिया मोबाइल कांग्रेस (IMC) 2019 (India Mobile Congress, 2019) में रिलायंस जियो इन्फोकॉम (Reliance Jio Infocomm) ने आर्टिफिशियल इंटलीजेंस (Artificial Intelligence) आधारित वीडियो कॉल असिस्टेंट (Bot) लॉन्च किया है, जिसे 4जी फोन कॉल के माध्यम से ऐक्सेस किया जा सकता है. खास बात है कि इसके लिए किसी भी तरह का कोई ऐप इन्स्टॉल नहीं करना पड़ेगा. यह जियो वीडियो कॉल असिस्टेंट कस्टमर सपोर्ट के मामले में क्रांति ला सकता है क्योंकि इससे ग्राहकों को लंबे समय तक म्यूजिक सुनते हुए कॉल-होल्ड नहीं करना पड़ेगा और कभी न खत्म होने वाली आईवीआर वेटिंग टाइम (IVR Waiting Time) भी बीते दिनों की बात हो जाएगी.

इस इनोवेटिव कस्टमर इंगेजमेंट वीडियो असिस्टमेंट सोल्यूशन (Innovative Customer Engagement Video Assistant Solution) को जियो ने यूएस बेस्ड कंपनी रेडिसिस (Radisys) के साथ मिलकर विकसित किया है. इस सर्विस की वजह से जियो वीडियो कॉल का बिजनेस काफी स्मूथ हो जाएगा.

जियो वीडियो बॉट कैसे करता है काम-
जियो वीडियो बॉट (Video Bot) लोगों का सवाल सुनने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस आधारित प्लेटफॉर्म का प्रयोग करता है और यूज़र्स को बिल्कुल सटीक तरीके से जवाब देता है. अपने जवाब को बेहतर बनाने के लिए बॉट ऑटो लर्निंग सिस्टम (Auto Learning System) का प्रयोग करता है.



जियो बॉट की खासियत यह है कि इसे कस्टमर्स की सुविधा को देखते हुए काफी कस्टमाइज़ किया जा सकता है. इसका प्रयोग सीधे तौर पर वीडियो कॉलिंग करके किया जा सकता है. इसे कई भाषाओं में प्रयोग करने की भी सुविधा यूज़र्स को मिलेगी.

रिलायंस जियो इन्फोकॉम के प्रेसीडेंट मैथ्यू ऊमेन ने कहा, 'जियो भारत में बिज़नेस को बढ़ावा देने और सशक्त करने के लिए इनोवेटिव डिजिटल सोल्यूशन उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है. रेडिसिस इस मामले में हमारी मदद कर रहा है ताकि छोटे से लेकर बड़े बिज़नेस बढ़ती हुई टेक्नॉलजी का लाभ उठा सकें.'
Loading...

(डिस्क्लेमर: न्यूज़18 हिंदी रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 5:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...