कांवड़ यात्रा मैनेजमेंट ऐप: मिलेगी मंदिर, रूट्स और हॉस्पिटल की जानकारी

इस ऐप के माध्यम से कांवड़ियों को रास्ते में पड़ने वाले सभी रूट्स, मंदिरों, हॉस्पिटल्स, पुलिस और शिविर के बारे में जानकारी मिलेगी.

News18Hindi
Updated: July 24, 2019, 12:39 PM IST
कांवड़ यात्रा मैनेजमेंट ऐप: मिलेगी मंदिर, रूट्स और हॉस्पिटल की जानकारी
इस ऐप के माध्यम से कांवड़ियों को रास्ते में पड़ने वाले सभी रूट्स, मंदिरों, हॉस्पिटल्स, पुलिस और शिविर के बारे में जानकारी मिलेगी.
News18Hindi
Updated: July 24, 2019, 12:39 PM IST
सावन के महीने में कांवड़ियों को सुविधा दिलाने और गाइड करने के लिए 'Kawad Yatra Management' ऐप लॉन्च किया गया है. इस ऐप के माध्यम से कांवड़ियों को रास्ते में पड़ने वाले सभी रूट्स, मंदिरों, हॉस्पिटल्स, पुलिस और शिविर के बारे में जानकारी मिलेगी. इसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है और किसी भी दूसरे एप्लीकेशन की तरह किसी भी एंड्रॉयड फोन पर ऑपरेट किया जा सकता है.

मेरठ डिवीज़न की कमिश्नर अनीता सी मेश्राम ने बताया, 'ऐप से तीर्थयात्री पास के किसी कैंप, हॉस्पिटल और पुलिस हेल्पलाइन के साथ साथ पानी और टॉयलेट के बारे में भी जानकारी ले सकते हैं.'

आगे उन्होंने कहा, 'इससे न सिर्फ हॉस्पिटल के बारे में जानकारी मिलेगी बल्कि डॉक्टरों की संख्या के बारे में भी पता चलेगा, इसलिए जिनको भी ज़रूरत है वे सीधा डॉक्टर को कॉल कर सकते हैं. पुलिस और सिविल अधिकारियों को भी कांवड़ यात्रा मैनेजमेंट ऐप को डाउनलोड करने को कहा गया है. क्योंकि यह सिर्फ तीर्थयात्रियों के लिए ही नहीं बल्कि अधिकारियों के लिए भी ज़रूरी है क्योंकि उन्हें भी सही लोकेशन की जानकारी होनी चाहिए.'

बता दें कि हर साल शिव भक्त कांवड़ यात्रा पर निकलते हैं. कांवड़िया हरिद्वार, गौमुख और गंगोत्री जाकर गंगाजल लेकर आते हैं और भगवान शिव पर चढ़ाते हैं.

(ये भी पढ़ें- एक अकाउंट से दूसरे Gmail में कैसे ट्रांसफर करें फोन के सारे नंबर, आसान है तरीका)
(ये भी पढ़ें-बिना WhatsApp खोले ही सुन पाएंगे चैट में आया Voice Message, जानें कैसे)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऐप्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 24, 2019, 10:23 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...