Home /News /tech /

खरीदना चाहते हैं रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन? तो जान लें ये फैक्ट्स, ताकि पछताना न पड़ें

खरीदना चाहते हैं रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन? तो जान लें ये फैक्ट्स, ताकि पछताना न पड़ें

यदि आप एक रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन खरीदने का प्लान बना चुके हैं तो उससे पहले आपको ये फैक्ट जरूर जान लेने चाहिएं.

यदि आप एक रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन खरीदने का प्लान बना चुके हैं तो उससे पहले आपको ये फैक्ट जरूर जान लेने चाहिएं.

रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन (Refurbished Smartphone) नए नहीं होते, लेकिन नए जैसे ही होते हैं. इनकी कीमत नए के मुकाबले काफी कम होती है. यदि आप एक रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन खरीदने का प्लान बना चुके हैं तो उससे पहले आपको ये फैक्ट जरूर जान लेने चाहिएं. यदि रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन इन फैक्ट्स पर खरा उतरता हो तो उसे खरीदना फायदेमंद साबित हो सकता है. और यदि इनमें से एक भी शर्त पूरा नहीं करता तो आपको रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन लेने का कोई फायदा नहीं होगा, उल्टा नुकसान ही उठाना पड़ेगा. क्या हैं वे फैक्ट, जानिए विस्तार से.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. स्मार्टफोन अब हमारी जिंदगी का महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुके हैं. फोन से दूसरों को कॉल करना तो अब बहुत छोटा काम रह गया है. आज फोन का यूज़ इंटरनेट इस्तेमाल करने, ऑनलाइन शॉपिंग, फूड ऑर्डर करने, पेमेंट करने के साथ-साथ और भी कई चीजों में होने लगा है. इसलिए हम लोग चाहकर भी इसे खुद से अलग नहीं कर सकते. और हर इंसान को लगभग 2 से 3 साल के बाद अपना स्मार्टफोन बदलना ही पड़ता है. कई बार अपडेटेड सिक्योरिटी ना होने की वजह से तो कई बार फोन के गिर के टूट जाने की वजह से या फिर फोन की बैटरी काफी कम चलने की वजह से.

    फोन को अपडेट करने के लिए हमें अच्छी खासी कीमत चुकानी पड़ती है. जितने अच्छे फोन के फीचर्स उतनी ही ज्यादा कीमत. अक्सर ऐसा होता है कि हम अपना मनपसंद स्मार्टफोन नहीं ले पाते, क्योंकि हमारे पास उसे खरीदने के लिए पैसे नहीं होते. तो पिछले कुछ समय से रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन (Refurbished Smartphone) का एक ट्रेंड चला है. रिफर्बिश्ड फोन नए नहीं होते, लेकिन लगभग नए ही होते हैं. इन स्मार्टफोन की कीमत नए स्मार्टफोन की बजाय कम होती है. अच्छे ब्रांड का प्रीमियम फीचर वाला स्मार्टफोन भी काफी सस्ता मिल जाता है. यही वजह है कि लोग रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन (Refurbished Smartphone) खरीदना चाहते हैं. लेकिन क्या हमें सिर्फ कीमत देखकर स्मार्टफोन खरीद लेना चाहिए? नहीं. यदि आप एक रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन खरीदने का प्लान बना रहे हैं तो आपको इन फेक्ट्स पर जरूर नजर डाल लेनी चाहिए-

    ये भी पढ़ें : अमेज़न, फ्लिपकार्ट की इन दूसरी साइट्स पर मिलती है सबसे ज्यादा छूट

    रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन खरीदने से पहले क्या-क्या देखें

    फैक्ट्री सेटिंग पर ध्यान दें
    यदि आपने एक रिफर्बिश्ड स्मार्ट फोन खरीदा है तो आपको सबसे पहले यह देखना चाहिए कि वह फैक्ट्री रिसेट हुआ है या नहीं. यदि उसकी सेटिंग फैक्ट्री रिसेट नहीं हुई है तो इसका मतलब वह फोन अच्छे से रिस्टोर और रिफर्बिश्ड नहीं किया गया. और अच्छे से रिफर्बिश न किए जाने का मतलब यह है कि फोन में किसी भी समय खराबी आ सकती है. यदि फोन अच्छे से रिफर्बिश्ड नहीं है तो आप इसे वापस भेज सकते हैं, क्योंकि हर रिफर्बिश्ड आइटम के साथ 10 दिन तक उसे वापस करने का विकल्प दिया जाता है.

    वारंटी के बिना किसी काम का नहीं फोन
    रिफर्बिश्ड स्मार्टफोंस के साथ वारंटी आती ही है. क्योंकि रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन में पहले भी कभी खराबी आई होती है इसीलिए भविष्य में भी उसमें कोई प्रॉब्लम आने की आशंका रहती है. तो आपको वारंटी का ख्याल खासतौर पर रखना चाहिए. यदि वारंटी नहीं होगी तो किसी भी खराबी के लिए आप खुद जिम्मेदार होंगे ना कि फोन बेचने वाला. यदि किसी स्मार्टफोन के साथ एक लंबी अवधि की गारंटी नहीं दी जा रही है तो उसे खरीदने से पहले अच्छे से सोच लें.

    ये भी पढ़ें – फोन स्क्रीन को वायरस-फ्री बनाने के तरीके, खुद बचें, परिवार को भी बचाएं

    असेसरीज की क्वालिटी परख करें
    यह भी जरूरी है कि आप जो स्मार्टफोन खरीदें उसके साथ आने वाली असेसरीज ओरिजिनल हो. यदि आप नकली असेसरीज का इस्तेमाल करेंगे तो आपका फोन ना तो वैसी परफॉर्मेंस देगा, जैसी आप चाहते हैं और ना ही वह लंबे समय तक चलेगा. उदाहरण के लिए यदि आपके रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन के साथ एक नकली चार्जर आता है तो जाहिर तौर पर बैटरी जल्दी खराब हो सकती है. स्मार्टफोन डिलीवरी होने के बाद यदि आपको पता चलता है कि उसकी असेसरीज नकली है तो आप उसे लौटा सकते हैं.

    वैध बिल नहीं तो मुसीबत
    आपको उस विक्रेता से ओरिजिनल या एक वैध बिल लेना चाहिए और उससे इस बात की गारंटी लेनी चाहिए कि यदि कल को कोई समस्या आएगी तो वह उसके लिए अवेलेबल रहेगा. यदि कोई फॉल्ट आता है तो वह उसे ठीक करवा कर देगा. यदि आपके पास एक वैध बिल नहीं है तो रिपेयरिंग में समस्या आ सकती है.

    ज्यादा पुराना मॉडल लेने का फायदा नहीं
    कई बार ऐसा होता है कि कुछ स्मार्टफोन पुराने होते हैं और नए ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ सपोर्ट नहीं करते. तो यदि आप किसी पुराने मॉडल का रिफर्बिश्ड डिवाइस लेने की योजना बना रहे हैं तो चेक कर लें कि कहीं वह फोन अपडेट ही ना हो पाए. यदि ऐसा होता है तो आप नए सिक्योरिटी अपडेट से दूर रहेंगे और यह सिक्योरिटी के साथ समझौता करने के बराबर है.

    स्मार्टफोन की कीमत कम हो
    कीमत का कम होना रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन खरीदने का सबसे बड़ा कारण होता है. डिवाइस की कॉस्ट कितनी कम होनी चाहिए कि वह भारी न लगे. यदि नए स्मार्टफोन की कीमत और रिफर्बिश्ड स्मार्टफोन की कीमत में ज्यादा अंतर ना हो तो फिर नए स्मार्टफोन खरीदना ही बेहतर है.

    Tags: Budhet smartphones, Portable gadgets, Smartphone

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर