होम /न्यूज /तकनीक /Jio ग्लास क्या है और कैसे करता है काम? कैसे करता है यूजर्स के अनुभव को बेहतर? जानिए सबकुछ

Jio ग्लास क्या है और कैसे करता है काम? कैसे करता है यूजर्स के अनुभव को बेहतर? जानिए सबकुछ

जियो ग्लास के माध्यम से 5जी डिवाइसों का अनुभव लेते पीएम नरेंद्र मोदी

जियो ग्लास के माध्यम से 5जी डिवाइसों का अनुभव लेते पीएम नरेंद्र मोदी

IMC 2022 प्रदर्शनी का उद्घाटन करने पहुंचे पीएम मोदी ने जियो पवेलियन का दौरा किया. इस दौरान उन्होंने पवेलियन में प्रदर्श ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पीएम नरेंद्र मोदी ने जियो ग्लास के जरिए जियो पवेलियन में मौजूद डिवाइसों का अनुभव किया.
जियो ग्लास यूजर्स को वर्चुअल स्पेस का इस्तेमाल कर 3D avatars का अनुभव प्रदान करते हैं.
Jio Glass वर्चुअल वर्ल्ड में बातचीत को बेहतर बनाने के लिए 3D अवतारों का उपयोग करता है.

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज भारत में 5जी सेवाओं का उद्घाटन कर दिया. इस दौरान पीएम नई दिल्ली के प्रगति मैदान में इंडिया मोबाइल कांग्रेस, 2022 के छठे संस्करण में नेक्स्ट जेन टेक्नोलॉजी का अनावरण भी किया. पीएम मोदी ने इंडिया मोबाइल कांग्रेस (IMC 2022) प्रदर्शनी का उद्घाटन करते हुए जियो पवेलियन का दौरा किया. इस दौरान उन्होंने पवेलियन में प्रदर्शित ट्रू 5जी डिवाइसों को देखा और जियो ग्लास के माध्यम से उनका अनुभव किया.

पीएम मोदी ने जियो के युवा इंजीनियरों की टीम द्वारा तैयार की गई एंड-टू-एंड 5G तकनीक के बारे में जाना. साथ ही उन्होंने यह भी जाना कि कैसे 5G शहरी और ग्रामीण स्वास्थ्य सेवा के बीच की खाई को पाटने में मदद कर सकता है. इस बीच पीएम मोदी द्वारा पहना गया जियो ग्लास चर्चा में आ गया, तो चलिए आपको बताते हैं कि ये जियो ग्लास क्या है?

जियो ग्लास क्या है?
रिलायंस की वार्षिक आम बैठक (AGM) 2022 में पहली बार जियो ग्लास को पेश किया गया था. यह कंपनी का पहला स्मार्ट ग्लास है. इसका उद्देश्य 3डी अवतार, होलोग्राफिक कंटेंट और सामान्य वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के अनुभव को अधिक इंटरैक्टिव बनाना है. 75 ग्राम वजनी Jio Glass वर्चुअल वर्ल्ड में बातचीत को बेहतर बनाने के लिए 3D अवतारों का उपयोग करता है. इसमें आपको पर्सेनेलाइस्ड ऑडियो और 3D होलोग्राम जैसे ऑप्शन मिलते हैं.

यह भी पढ़ें- IMC 2022 : रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के सीएमडी मुकेश अंबानी ने 5जी की लॉन्चिंग के मौके पर कहीं ये 10 बड़ी बातें

शानदार वर्चुअल वर्ल्ड एक्सपीरियंस
जियो ग्लास की ऐप्लीकेशंस इंडस्ट्री और सेक्टर जैसे कि e-learning, मीडिया और एंटरटेनमेंट, गेमिंग और शॉपिंग के लिए इस्तेमाल की जा सकती है. इस डिवाइस को स्मार्टफोन से भी कनेक्ट किया जा सकता है, जिससे आप एक शानदार वर्चुअल वर्ल्ड का एक्सपीरियंस कर सकेंगे.

तीन टेलीकॉम ऑपरेटर्स ने दिया डेमो
भारत में 5जी तकनीक की क्षमता दिखाने के लिए देश के 3 प्रमुख टेलीकॉम ऑपरेटर्स ने एक-एक कर प्रधानमंत्री मोदी के सामने डेमो दिया. भारत में 5G सेवाओं पर खर्च होने वाली राशि के 2035 तक 450 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है. अल्ट्रा-हाई-स्पीड इंटरनेट को सपोर्ट करने में सक्षम, पांचवीं पीढ़ी या 5G सेवा से भारत परिवर्तनकारी शक्ति के रूप में नए आर्थिक अवसरों और सामाजिक लाभों को प्राप्त करेगा.

(डिस्केलमर:- न्यूज18 हिंदी, रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.)

Tags: 5g, 5G network, 5G Technology, PM Modi, Tech news, Tech News in hindi

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें