Home /News /tech /

Facebook ने बताया क्यों डाउन हुआ था सर्वर, कुछ घंटों में ही हो गया था 447 अरब रुपये का नुकसान

Facebook ने बताया क्यों डाउन हुआ था सर्वर, कुछ घंटों में ही हो गया था 447 अरब रुपये का नुकसान

फेसबुक, व्हाट्सऐप और इंस्टाग्राम की सेवाएं 4 अक्‍टूबर की रात वैश्चिक स्तर पर ठप्प हो गईं थी. (फाइल फोटो: Shutterstock)

फेसबुक, व्हाट्सऐप और इंस्टाग्राम की सेवाएं 4 अक्‍टूबर की रात वैश्चिक स्तर पर ठप्प हो गईं थी. (फाइल फोटो: Shutterstock)

फेसबुक ने बताया कि सर्वर (Facebook Server Down) में समस्या तब शुरू हुई, जब इंजीनियर ग्‍लोबल नेटवर्क पर रोजमर्रा का काम कर रहे थे.

    नई दिल्‍ली. सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म फेसबुक (Facebook), वॉट्सऐप (WhatsApp) और इंस्‍टाग्राम (Instagram) की सेवाएं 4 अक्‍टूबर 2021 की रात कई घंटों तक बाधित रहीं. फेसबुक को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ी थी. कुछ ही घंटे तक सर्वर डाउन रहने से कंपनी को अरबों रुपये का नुकसान (Financial Loss) बर्दाश्‍त करना पड़ा है. अब कंपनी ने सर्वर डाउन होने की वजह बताई है. फेसबुक ने बताया है कि रेग्‍युलर मेंटेनेंस के दौरान आई खामी से सर्वर डाउन हो गया. फेसबुक के इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर वाइस प्रसिडेंट संतोष जनार्दन ने कहा कि हमारी सेवाएं किसी दुर्भावनापूर्ण गतिविधि के कारण नहीं, बल्कि हमारी अपनी गलती के कारण बाधित हुई थीं.

    फेसबुक के सर्वर में क्‍या आई थी दिक्‍कत
    जनार्दन ने बताया कि यह समस्या तब शुरू हुई, जब इंजीनियर फेसबुक के ग्‍लोबल नेटवर्क पर रोजमर्रा का काम कर रहे थे. इस नेटवर्क में दुनियाभर के सेंटर्स के कंप्यूटर, राउटर और सॉफ्टवेयर फाइबर-ऑप्टिक केबल से जुड़े हैं. नियमित रखरखाव के दौरान एक गलत कमांड से फेसबुक डाटा सेंटर डिस्कनेक्ट हो गए. उन्होंने कहा कि फेसबुक सिस्‍टम को ऐसी गलतियों को पकड़ने के लिए डिजाइन किया गया है, लेकिन इस मामले में ऑडिट टूल में एक बग के कारण ऐसा नहीं हो सका. उस बदलाव के कारण एक दूसरी समस्या पैदा हो गई और फेसबुक के सर्वर तक पहुंचना मुश्किल हो गया. हालांकि, वे काम कर रहे थे.

    ये भी पढ़ें- Bank Holidays in October 2021: कल नवरात्रि से 17 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखें छुट्टियों की पूरी लिस्‍ट

    फेसबुक संस्‍थापक को उठाना पड़ा बड़ा नुकसान
    फेसबुक के इंजीनियर्स ने समस्या को ठीक करने की कोशिश की, लेकिन कई सिक्‍योरिटी लेयर्स के कारण इसमें समय लग गया. जर्नादन ने कहा कि डाटा सेंटर्स में एंट्री लेना कठिन होता है. एक बार जब आप अंदर पहुंच जाते हैं तो हार्डवेयर और राउटर को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि फिजिकल पहुंच होने पर भी उनमें संशोधन करना मुश्किल हो. बता दें कि कुछ घंटों के लिए ठप हुए फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सऐप और एक विह्सलब्लोअर (Whistleblower) के खुलासों ने कंपनी के सीईओ मार्क जकरबर्ग (Mark Zuckerberg) को भारतीय मुद्रा में करीब 447 अरब रुपये (600 करोड़ डॉलर) से ज्‍यादा का नुकसान पहुंचाया.

    ये भी पढ़ें- Gold Price Today: त्‍योहारों से पहले घटे गोल्‍ड के दाम, मिल रहा रिकॉर्ड हाई से 10582 रुपये सस्‍ता, देखें नए भाव

    अमीरों की सूची में फिसल गए थे मार्क जकरबर्ग
    फेसबुक को हुए नुकसान की वजह से अमीरों की सूची में जकरबर्ग एक पायदान फिसलकर माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स से एक स्थान नीचे आ गए थे. सोशल मीडिया कंपनी के स्टॉक में उस दिन 4.9 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. स्‍टॉक में सितंबर मध्य से ही करीब 15 फीसदी की गिरावट देखी गई है. स्टॉक में हुए बदलाव के बाद जकरबर्ग की कुल संपत्ति 12 हजार 160 करोड़ डॉलर पर आ गई. ब्लूमबर्ग की सूची में फेसबुक सीईओ का नाम बिल गेट्स के नीचे पहुंच गया.

    Tags: Business news in hindi, Facebook, Instagram, Mark zuckerberg, Whatsapp

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर