होम /न्यूज /तकनीक /Linkedin की बड़ी कार्रवाई, एक झटके में 3 लाख ऐपल कर्मचारियों के अकाउंट रिमूव किए, जानिए कारण

Linkedin की बड़ी कार्रवाई, एक झटके में 3 लाख ऐपल कर्मचारियों के अकाउंट रिमूव किए, जानिए कारण

लिंक्डिंन ने ऐपल कर्मचारियों के अकाउंट रिमूव किए

लिंक्डिंन ने ऐपल कर्मचारियों के अकाउंट रिमूव किए

एक रिपोर्ट के मुताबिक लिंक्डइन ने 3लाख से अधिक फेक प्रोफाइल को हटा दिया है. इन प्रोफाइल पर यूजर्स ने खुद ऐपल का Employe ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

लिंक्डइन ने अपने प्लेटफॉर्म से 3लाख से अधिक फेक प्रोफाइल को हटा दिया है.
इन प्रोफाइल में यूजर्स ने खुद ऐपल का Employer बताया था.
इन अकाउंट्स में फेक प्रोफाइल डिस्क्रिप्शन का उपयोग किया गया था.

नई दिल्ली. हर साल वेब पर फर्जी अकाउंट की तादाद में इजाफा हो रहा है. फेसबुक, और ट्विटर जैसे प्लेटफॉर्म के बाद लिंक्डइन पर भी बड़ी संख्या में फेक अकाउंट मिल हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक लिंक्डइन ने 3 लाख से अधिक फेक प्रोफाइल को हटा दिया है. इन प्रोफाइल पर यूजर्स ने खुद ऐपल का Employer के रूप में लिस्टेड किया था. बता दें कि लिंक्डइन 6 लाख लोगों ने खुद को ऐपल के Employer के रूप में लिस्टेड किया हुआ है. लिंक्डइन ने 24 घंटे की अवधि में फेक अकाउंट पर एक्शन लेते हुए Apple को अपने नियोक्ता के रूप में सूचीबद्ध करने वाले प्रोफाइल की संख्या आधी कर दी है.

हालांकि, इसका मतलब यह नहीं है कि एक ही दिन में 3,00,000 से अधिक लोगों ने Apple कंपनी छोड़ दिया है. दरअसल, डिलीट किए गए अकाउंट्स, ऐपल के कर्मचारी होने का दिखावा कर रहे थे, जबकि वे कंपनी के कर्मचारी नहीं थे. इन अकाउंट्स में ऐसे प्रोफाइल डिस्क्रिप्शन और तस्वीरों का उपयोग किया गया था, जो एडिटेड या फर्जी थे.

Jay Pinho ने किया रिपोर्ट
गौरतलब है कि Linkedin पर डेवलपर के रूप में काम करने वाले Jay Pinho ने सबसे पहले Linkedin पर Apple और Amazon के कर्मचारियों की बढ़ती संख्या के बारे में रिपोर्ट दी थी. Pinho न केवल कंपनी में काम करते हैं बल्कि बड़े संगठनों में डेली कर्मचारियों की संख्या की मॉनिटरिंग भी करतें हैं.

यह भी पढ़ें- WhatsApp यूजर्स के लिए बुरी खबर! दिवाली से इन स्मार्टफोन्स पर नहीं चलेगा ऐप

फेक अकाउंट की संख्या में गिरावट
उन्होंने एक साइबर सुरक्षा ब्लॉग क्रेब्स ऑन सिक्योरिटी को बताया कि उनका स्कार्पर दिखाता है कि अमेजन के कर्मचारी होने का दावा करने वाले लिंक्डइन प्रोफाइल की संख्या केवल एक दिन में लगभग 1.25 मिलियन से गिरकर 8,38,601 हो गई. इसमें लगभग 33% की गिरावट आई है. पिन्हो के अनुसार इसी तरह Apple में काम करने का दावा करने वाले लिंक्डइन प्रोफाइल की कुल संख्या में लगभग 50% की गिरावट आई है.

बिनेंस कर्मचारियों के फेक अकाउंट
लिंक्डइन ने बिजनेस इनसाइडर को बताया कि क्रिप्टो एक्सचेंज कंपनी बिनेंस के सीईओ द्वारा ट्विटर पर खुलासा किए जाने के बाद फर्जी अकाउंट को हटाया गया है. इस कारण हेडकाउंट में गिरावट आई है. उल्लेखनीय है कि लिंक्डइन पर ‘बिनेंस कर्मचारियों’ के 7000 प्रोफाइल हैं, जिनमें से केवल 50 फीसदी ही रियल हैं. उन्होंने यूजर्स को स्कैमर्स के बारे में सचेत किया और अपने फॉलोवर्स को ‘सावधान’ रहने की चेतावनी दी. बता दें कि वित्तीय धोखाधड़ी को अंजाम देने के लिए अक्सर लिंक्डइन पर फर्जी प्रोफाइल बनाए जाते हैं.

फेक अकाउंट को रोकने का प्रयास जारी
फेक अकाउंट्स की बात करते हुए लिंक्डइन के प्रवक्ता ग्रेग स्नैपर ने कहा कि वह अपने प्लेटफॉर्म पर फेक अकाउंट को रोकने के लिए नियमित रूप से कार्रवाई करते हैं और ऑनलाइन आने से पहले फोक अकाउंट को रोकने के लिए अपने सिस्टम में लगातार सुधार कर रहे हैं.

Tags: Apple, LinkedIn, Tech news, Tech News in hindi

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें