लाइव टीवी

चुनाव आयोग के इस ऐप पर आप कर सकते हैं नेताओं की शिकायत, तुरंत होगी कार्रवाई

News18Hindi
Updated: March 13, 2019, 3:26 PM IST
चुनाव आयोग के इस ऐप पर आप कर सकते हैं नेताओं की शिकायत, तुरंत होगी कार्रवाई
कोई भी शख्स या नेता आचार सहिंता का उल्लंघन करते दिखे तो ऐसे करें शिकायत 1 घंटा 40 मिनट में होगी कार्यवाई

कोई भी शख्स या नेता आचार सहिंता का उल्लंघन करते दिखे तो ऐसे करें शिकायत 1 घंटा 40 मिनट में होगी कार्यवाई

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 13, 2019, 3:26 PM IST
  • Share this:
चुनाव आयोग ने रविवार शाम को 2019 के लोकसभा चुनावों की घोषणा की, जिसके बाद देश की सभी राजनीतिक पार्टियां 29 राज्यों और 7 केंद्र शासित प्रदेशों में 11 अप्रैल से शुरू होने वाले चुनावों में बाजी मारकर सरकार बनाने की तैयारी में जुट गई हैं. इसी बीच चुनाव आयोग ने मंगलवार को एंड्रॉयड बेस एप्लिकेशन cVIGIL ऐप को लॉन्च किया है, ताकि लोकसभा चुनाव 2019 में कोई भी आचार सहिंता का उल्लंघन न कर सके. ऐसे में आइए आज हम आपको बताते हैं कि यह ऐप कैसे काम करता है और इसके फायदे क्या हैं.

cVIGIL ऐप के फायदे
बता दें कि cVIGIL ऐप में GPS फीचर है, ऐसे में अगर कोई भी शख्स आचार सहिंता का उल्लंघन करते दीखता है और आप चाहते हैं कि इसकी जानकारी चुनाव आयोग को देनी चाहिए तो, cVIGIL ऐप की मदद से आप चुनाव आयोग को इसकी जानकारी दे सकते हैं, जिसके बाद GPS फीचर की मदद से EC शिकायतकर्ता के जगह की पहचान करेगा और 100 मिनट के भीतर उसपर कार्यवाई की जाएगी. खास बात ये है कि आपकी जानकारी गोपनीय रखी जाएगी. हालांकि, यह ऐप अभी एक्टिव नहीं है लेकिन इसे नामाकंन भरते ही एक्टिव कर दिया जाएगा.

इस स्थिति में कर सकते हैं शिकायत



अगर आपके पास-पास कोई भी नेता या शख्स पैसा बाटते, किसी भी तरह का गिफ्ट देते, शराब बाटते, बिना परमिशन के पोस्टर या होडिंग बोर्ड लगते, पैसों से न्यूज़ चलवाते, प्रोपर्टी गिफ्ट करते, पोलिंग बूथ के 200 मीटर के दायरे में चुनाव प्रचार करते, प्रतिबंध के बाद भी प्रचार करते, सार्वजनिक रैलियों में परिवहन इस्तेमाल करते दिखे तो आप फ़ौरन अपने फोन में cVIGIL ऐप डाउनलोड कर इसकी शिकायत दर्ज कर सकते हैं.



ये भी पढ़ें: Xiaomi फैंस की दीवानगी, मिनटों में out of stock हुआ Redmi Note 7 Pro

यहां से करें डाउनलोड
cVIGIL ऐप को अपने फोन में डाउनलोड करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको पहले गूगल प्ले स्टोर पर जाना होगा, जिसके बाद आपको वहां से cVIGIL ऐप डाउनलोड करना होगा. डाउनलोड करने के बाद जब आप इस ऐप को ओपन करेंगे तो आपके मोबाइल के स्क्रीन पर अलाऊ cVIGIL टू टेक पिक्चर एंड रिकॉर्ड वीडियो का ऑप्शन आएगा, जिसके बाद आपको इसे अलाऊ करना होगा. इसका फायदा यह होगा कि जब भी आप किसी की शिकायत चुनाव आयोग को देंगे तो आप फोटो या वीडियो को cVIGIL ऐप में अटैच कर पाएंगे.

ये भी पढ़ें: 7,000 रुपये सस्ता मिल रहा है डुअल कैमरा वाला यह स्मार्टफोन, बचे हैं 2 दिन

ऐसे काम करेगा cVIGIL ऐप
इस ऐप का इस्तेमाल वही कर पाएगा जिसके पास कैमरा, इंटरनेट कनेक्शन और GPS वाला स्मार्टफोन हो. इस ऐप का इस्तेमाल करने वाले वोटर को आचार सहिंता का उल्लंघन करने वाले का फोटो या अधिक से अधिक दो मिनट का वीडियो चुनाव आयोग भेजना होगा.

ये भी पढ़ें: Jio की ये सर्विस है बिलकुल मुफ्त, बता देगा आपका Wifi सेफ है या खतरनाक, वीडियो में देखें कैसे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऐप्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 13, 2019, 3:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading