माइक्रोसॉफ्ट बंद करेगा Windows 10 सपोर्ट! जानिए कब और उसके बदले क्या लॉन्च करने की है प्लानिंग

Microsoft जल्द लॉन्च करेगा Windows का नेक्स्ट जेनरेशन

माइक्रोसॉफ्ट के सपोर्ट डॉक्यूमेंट के अनुसार विंडोज 10 होम और प्रो, माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 10 होम प्रो, प्रो एडक्शन और प्रो फॉर वर्कस्टेशन के लिए 24 अक्टूबर को विडोंज की वर्तमान पीढ़ी रिटायर हो जाएगी.

  • Share this:

    नई दिल्ली. माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) ने घोषणा की है कि वो Windows 10 का सपोर्ट बंद करने जा रहा है. कंपनी ने इस सपोर्ट के रिटायरमेंट (retirement) की तारिख की भी घोषणा कर दी. कंपनी के अनुसार अक्टूबर 2025 से Windows 10 को बंद कर दिया जाएगा. इसका रिप्लेसमेंट कंपनी नई जनरेशन (new generation) के विंडोज से करेगी. माइक्रोसॉफ्ट के सपोर्ट डॉक्यूमेंट के अनुसार विंडोज 10 होम और प्रो, माइक्रोसॉफ्ट विंडोज 10 होम प्रो, प्रो एडक्शन और प्रो फॉर वर्कस्टेशन के लिए 24 अक्टूबर को विडोंज की वर्तमान पीढ़ी रिटायर हो जाएगी. जिससे पता चलता है कि विंडोज के लिए सभी डवलपमेंट और सेफ्टी अपडेट 10 को 2025 तक पूरी तरह से हटा दिया जाएगा. हालांकि इसमें विंडोज 10 पर आधारित विंडोज सर्वर बिल्ड के विंडोज 10 को लेकर कुछ नहीं कहा गया है. 


    यह अपडेट माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ द्वारा पिछले महीने माइक्रोसॉफ्ट बिल्ड 2021 सम्मेलन के दौरान विंडोज की अगली पीढ़ी के बारे में अपडेट देने के तुरंत बाद आया है. माइक्रोसॉफ्ट के सपोर्ट पेज के अनुसार माइक्रोसॉफ्ट 14 अक्टूबर 2025 तक अपना सपोर्ट जारी रखेगा. पेज के अनुसार यह बदलाव विंडोज 10 का बदलाव  सभी होम, प्रो, प्रो एजुकेशन और प्रो फॉर वर्कस्टेशन्स एडिशन्स के लिए होगा. 


    विंडोज 11 के बारे में कोई घोषणा नहीं 


    हाल ही दिनों में हुए सभी डवलपमेंट ने माइक्रोसॉफ्ट विंडोज की नई जनरेशन के और इशारा किया है. जबकि कंपनी ने विंडोज 11 (अपुष्ट नाम) के बारे में कुछ भी घोषणा नहीं की है. माइक्रोसॉफ्ट सीईओ सत्य नडेला ने पिछले महीने कंपनी के बिल्ड 2021 सम्मेलन के दौरान कहा कि वह पिछले कुछ महीनों से विंडोज की अगली जनरेशन का परीक्षण कर रहे हैं. 


    ये भी पढ़ें - Capital Money Mantra पर सेबी ने लगाया बैन, लौटाने होंगे निवेशकों के पैसे, जानिए पूरा मामला




    कर्मशियल प्लेटफॉर्म को भी अनुमति दे सकता है माइक्रोसॉफ्ट


    बिल्ड 2021 के दौरान नडेला ने नए विंडोज ऐप स्टोर की ओर भी इशारा किया, जिस पर माइक्रोसॉफ्ट काम कर रहा है, यह कहते हुए कि यह विंडोज के अंदर ही डेवलपर्स और क्रिएटर्स के लिए बेहतर अर्थव्यवस्था को अनलॉक करने का वादा करता है. अफवाहों ने पहले सुझाव दिया है कि Microsoft ऐप्स में तीसरे पक्ष के कर्मशियल प्लेटफार्मों को भी अनुमति दे सकता है, इसलिए डेवलपर्स Microsoft के ऐप्स पर 15 प्रतिशत कटौती और गेम्स पर 12 प्रतिशत कमीशन से बच सकते हैं. 


    2015 में लॉन्च किया था विंडोज 10
    माइक्रोसॉफ्ट ने 2015 मे अपने पॉपुलर विंडोज 10 ऑपरेटिंग सिस्टम को लॉन्च किया था. इस ऑपरेटिंग सिस्टम मे स्टार्ट मेनू फुलस्क्रीन मोड पर भी चल सकती है, इसके अलावा इस ऑपरेटिंग सिस्टम मे माइक्रोसॉफ्ट एक्शन सेंटर, इंस्टॉल्ड एप्स नोटिफिकेशन और साथ ही सुरक्षा से जुड़ी कई चीजें डाली हैं. यह ऑपरेटिंग सिस्टम स्प्लिट मोड मे चलता है, जिसके अनुसार यह डिवाइस के मुताबिक अपने आप टैबलेट या पीसी मोड पर स्विच हो सकता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.