Home /News /tech /

रिकॉर्ड कोविड वैक्‍सीनेशन की खुशी में सरकार देगी 3 महीने का फ्री मोबाइल रिचार्ज, जानें पूरा सच

रिकॉर्ड कोविड वैक्‍सीनेशन की खुशी में सरकार देगी 3 महीने का फ्री मोबाइल रिचार्ज, जानें पूरा सच

Fact Check : वॉट्सऐप मैसेज में दावा किया जा रहा है कि सरकार सभी यूजस्र को फ्री रीचार्ज दे रही है.

Fact Check : वॉट्सऐप मैसेज में दावा किया जा रहा है कि सरकार सभी यूजस्र को फ्री रीचार्ज दे रही है.

वॉट्सऐप मैसेज (WhatsApp Message) में सरकारी की ओर से फ्री मोबाइल रिचार्ज (Free Mobile Recharge) देने के दावे की पीआईबी (#PIBFactCheck) ने पड़ताल की तो पाया कि मोदी सरकार (Modi Government) ने ऐसा कोई ऐलान नहीं किया है.

    नई दिल्ली. कोरोना संकट के बीच कभी ऑक्‍सीजन तो कभी रैमडेसिवर जैसी दवाओं की उपलब्‍धता को लेकर फर्जी दावे किए गए. अब वैकसीनेशन को लेकर फर्जी दावे किए जा रहे हैं. अब एक वॉट्सऐप मैसेज में दावा किया जा रहा है कि देश में रिकॉर्ड कोरोना वैक्सीनेशन होने की खुशी में केंद्र की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार सभी भारतीय यूजर्स को 3 महीने का मोबाइल रिचार्ज फ्री में दे रही है. साफ है कि एक ओर सोशल मीडिया ने लोगों के कई काम आसान बना दिए हैं. वहीं, साइबर क्राइम के मामले रोज बढ़ रहे हैं. बता दें कि प्रेस इंफॉर्मेशन ब्‍यूरो (PIB) समय-समय पर अलर्ट जारी कर लोगों को सचेत करता रहता है.

    PIB ने जारी की चेतावनी
    वॉट्सऐप में सरकारी की ओर से एयरटेल (Airtel), जियो (Jio) और वोडाफोन आइडिया Vi) के सभी यूजर्स को 3 महीने का फ्री रिचार्ज देने के दावे की पीआईबी ने पड़ताल की तो पाया कि केंद्र ने ऐसा कोई ऐलान नहीं किया है. पीआईबी ने कहा है कि वॉट्सऐप मैसेज में किया जा रहा ये दावा पूरी तरह से फर्जी और आधारहीन है. केंद्र सरकार ने इंडियन यूजर्स के लिए ऐसी कोई घोषणा नहीं की है. लिहाजा, आप ऐसे दावों के झांसे में बिलकुल ना आएं.

    ये भी पढ़ें- घरों की बिक्री जुलाई-सितंबर 2021 के दौरान कोरोना महामारी से पहले के स्तर के पार पहुंची, जानें वजह

    क्या करता है PIB?
    पीआईबी भ्रामक खबरों के खिलाफ एक्शन लेता है और आम जनता को सतर्क करता है. इसके अलावा सोशल मीडिया पर वायरल होने वाले मैसेज की सच्चाई की जांचकर वास्‍तविक तथ्‍य पेश करता है.


    कोरोना काल में बढ़ रहीं फेक खबरें
    कोरोना काल में देशभर में जिस तरह के हालात बने हुए हैं, ऐसे में कई फेक न्‍यूज तेजी से वायरल हो रही हैं. भारत सरकार की प्रेस इंफॉर्मेशन ब्यूरो ने वायरल खबर का खंडन करते हुए कहा है कि सरकार ने ऐसा कोई फैसला नहीं लिया है. सरकार ने भी कोरोना काल में इस तरह की फर्जी ख़बरों को फैलने से रोकने के लिए कई प्रयास किए हैं.

    ये भी पढ़ें- Paytm IPO: विदेशी निवेशकों से 20-22 अरब डॉलर के वैल्यूएशन पर मिल रही डिमांड, जानें कब लॉन्‍च होगा पब्किल ऑफर

    आप भी करा सकते हैं फैक्ट चेक
    अगर आपको भी कोई ऐसा मैसेज मिलता है तो उसे पीआईबी के पास फैक्ट चेक के लिए https://factcheck.pib.gov.in/ या वॉट्सऐप नंबर +918799711259 या ईमेल pibfactcheck@gmail.com पर भेज सकते हैं. यह जानकारी पीआईबी की वेबसाइट https://pib.gov.in पर भी उपलब्ध है.

    Tags: Airtel, Fake Message, Fake news, Fake Viral Message, Idea, Jio, Modi government, PIB fact Check, Vodafone

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर