• Home
  • »
  • News
  • »
  • tech
  • »
  • NEW IT RULES GOOGLE FACEBOOK AND WHATSAPP HAVE SHARED DETAILS WITH IT MINISTRY NODVKJ

New IT Rules: गूगल, फेसबुक और व्हाट्सऐप ने IT मंत्रालय के साथ शेयर की डिटेल

नियमों का पालन नहीं करने पर सोशल मीडिया कंपनियों को अपनी मध्यस्थ इकाई का दर्जा खोना पड़ सकता है.

गूगल (Google), फेसबुक (Facebook) और व्हाट्सऐप (WhatsApp) ने नए सोशल मीडिया नियमों के तहत आईटी मंत्रालय के साथ डिटेल शेयर किया है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (IT Ministry) की ओर से जारी इंटरमीडियरी गाइडलाइंस को सोशल मीडिया कंपनियों की सहमति मिलती नजर आ रही है. दरअसल, गूगल (Google), फेसबुक (Facebook) और व्हाट्सऐप (WhatsApp) ने नए सोशल मीडिया नियमों के तहत आईटी मंत्रालय के साथ डिटेल शेयर किया है.

    पीटीआई सूत्रों के मुताबिक, ट्विटर नए नियमों का पालन नहीं कर रहा है. उसने आईटी मंत्रालय को डिटेल नहीं भेजा है.



    मंत्रालय ने सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म्‍स से मांगी हैं ये जानकारियां

    आईटी मंत्रालय ने कहा कि बड़े सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म्‍स अपनी मूल कंपनी या किसी अन्य सहायक कंपनी के जरिये भारत में सेवाएं देते हैं. इनमें से कुछ आईटी अधिनियम और नए नियमों के तहत महत्वपूर्ण सोशल मीडिया मध्यस्थ (SSMI) की परिभाषा के अंतर्गत आते हैं. ऐसे में इन नियमों के अनुपालन को सुनिश्चित करने के लिए सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म्‍स ऐप का नाम, वेबसाइट और सर्विसेस जैसी डिटेल्‍स के अलाव तीन प्रमुख कर्मियों के ब्‍योरे के साथ भारत में प्‍लेटफॉर्म का फिजिकल एड्रेस मुहैया कराएं. पत्र में कहा गया है कि अगर आपको एसएसएमआई नहीं माना जाता है तो हर सेवा पर रजिस्‍टर्ड यूजर्स की संख्या समेत इसके कारण की जानकारी दी जाए.

    नियम नहीं मानने पर खोना पड़ेगा मध्‍यस्‍थ इकाई का दर्जा

    नियमों का पालन नहीं करने पर सोशल मीडिया कंपनियों को अपनी मध्यस्थ इकाई का दर्जा खोना पड़ सकता है. दूसरे शब्दों में अनुपालन के मामले में उन पर आपराधिक कार्रवाई की जा सकती है. नए नियमों के मुताबिक, अधिकारियों की ओर से अगर किसी सामग्री को लेकर आपत्ति जताई जाती है और उसे हटाने के लिए कहा जाता है तो उन्हें 36 घंटे के भीतर कदम उठाना होगा.
    First published: