मालवेयर से उत्तर कोरिया चुरा सकता है सरकारी दफ्तरों का डाटा

अमेरिकी अधिकारियों ने कहा है कि उत्तर कोरिया में विकसित मालवेयर (कंप्यूटर को नुकसान पहुंचाने वाला सॉफ्टवेयर) की अभी भी कई कंप्यूटर नेटवर्कों पर नजर है

भाषा
Updated: November 15, 2017, 12:31 PM IST
मालवेयर से उत्तर कोरिया चुरा सकता है सरकारी दफ्तरों का डाटा
Picture for representation only
भाषा
Updated: November 15, 2017, 12:31 PM IST
अमेरिकी अधिकारियों ने कहा है कि उत्तर कोरिया में विकसित मालवेयर (कंप्यूटर को नुकसान पहुंचाने वाला सॉफ्टवेयर) की अभी भी कई कंप्यूटर नेटवर्कों पर नजर है. इसे हैक कर सरकार, वित्तीय संस्थानों, मीडिया संगठनों और ऑटोमोटिव संस्थानों तक पहुंच बना सकते हैं.

गृह सुरक्षा विभाग द्वारा जारी एक अलर्ट में तथाकथित हैकर समूह 'हिडन कोरा' की गुप्त गतिविधियों के प्रति चेतावनी दी गई है. इस समूह को 'लेजारस' के नाम से भी जाना जाता है. इस साल की शुरुआत में अमेरिकी अधिकारियों ने वर्ष 2009 से हुए कई साइबर हमलों के पीछे इस समूह को जिम्मेदार बताया था और कहा था कि यह समूह उत्तर कोरियाई सरकार से जुड़ा हुआ है.

हालांकि उत्तर कोरिया ने किसी भी तरह के साइबर हमले की योजना से इंकार किया था. मंगलवार को जारी की गई चेतावनी में गृह सुरक्षा विभाग की डीएचएस कंप्यूटर इमरजेंसी रेस्पॉन्स टीम (सीईआरटी) ने कहा कि नेटवर्क के और अधिक दुरुपयोग के लक्ष्य से हैकर अभी भी शिकार हुए कंप्यूटर नेटवर्कों में घात लगाए हुए हो सकते हैं.

रिपोर्ट में कहा गया कि कुछ नेटवर्क में वोल्गमर के बैकडोर ट्रोजन अभी भी मौजूद हो सकते हैं जो हैकर को दूर से ही किसी भी सिस्टम को पूरी तरह नियंत्रित करने का मौका दे सकते हैं.
News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Tech News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर