अप्लाई करते ही नहीं मिलेगा नया मोबाइल नंबर, करना पड़ेगा कई दिन तक इंतज़ार

अप्लाई करते ही नहीं मिलेगा नया मोबाइल नंबर, करना पड़ेगा कई दिन तक इंतज़ार
प्रतीकात्मक तस्वीर

जहां आधार के जरिए मात्र 30 मिनट में कस्टमर का वेरिफिकेश हो जाता था वहीं अब इस काम में 5 से 6 दिन लगेगा

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 2, 2018, 3:26 PM IST
  • Share this:
सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में फैसला सुनाया है कि अब मोबाइल नंबर लेने के लिए आधार की जरूरत नहीं होगी. इसका मतलब अब आप दूसरे डॉक्यूमेंट्स के जरिए नया नंबर ले सकते हैं. लेकिन अब मोबाइल नंबर लेना इतना आसान नहीं होगा और आपको नया सिम मिलने में काफी समय लगेगा जैसे पहले लगता था. तो आइए जानते हैं नया नंबर लेते समय कौन सी परेशानी का करना पड़ेगा सामना...

करना पड़ेगा लंबा इंतज़ार-
सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब टेलिकॉम कंपनियां कस्टमर्स से KYC वेरिफिकेशन के लिए AADHAAR कार्ड नहीं ले सकती हैं. जिसके चलते नए कनेक्शन के लिए आपको लंबा इंतज़ार करना पड़ सकता है. जहां आधार की मदद से कंपनियां मात्र 30 मिनट में कस्टमर का वेरिफिकेशन कर लेती थीं वहीं अब नया मोबाइल कनेक्शन पाने के लिए 5 से 6 दिन तक का समय लग सकता है. क्योंकि अब फिर से पूरा प्रोसेस पहले की तरह ही होगा.

फिजिकल वेरिफिकेशन की होगी जरूरत-
AADHAAR कार्ड की जरूरत खत्म होने के बाद टेलिकॉम कंपनियों को 24 से 36 घंटे के बीच फिजिकल वेरिफिकेशन करना होगा. जो भी लोग नए नंबर के लिए अप्लाई करेंगे उन ग्राहकों के पते पर जाकर पेपर लेने होंगे, फिर सिग्नेचर कराने होंगे और फिर डॉक्युमेंट्स को वेरिफिकेशन सेंटर भेजना होगा. इसके बाद क्रॉस-वेरिफिकेशन कॉल के बाद नंबर चालू हो सकेगा.



आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा मोबाइल नंबर के लिए आधार की जरूरत समाप्त करने का आदेश देने के बाद यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने टेलिकॉम कंपनियों से कहा है कि वे 15 दिनों के भीतर बताएं कि कैसे आधार का इस्तेमाल मोबाइल नंबर वेरिफिकेशन के लिए नहीं किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading