लाइव टीवी

ओडिशा के इस रेस्टोरेंट में 'मेड इन इंडिया' रोबोट्स सर्व करते हैं खाना

News18Hindi
Updated: October 17, 2019, 2:01 PM IST
ओडिशा के इस रेस्टोरेंट में 'मेड इन इंडिया' रोबोट्स सर्व करते हैं खाना
इन रोबोट्स के लिए किसी तरह का खास ट्रैक नहीं बनाया गया है बल्कि वे यूनीफॉर्म तरीके से कहीं भी मूव कर सकते हैं.

इन दोनों रोबोट्स का नाम चंपा और चमेली है. इनमें SLAM (Simultaneous Localization And Mapping) टेक्नॉलजी का प्रयोग किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2019, 2:01 PM IST
  • Share this:
आप किसी रेस्टोरेंट में खाना खाने गए हैं और आपको रोबोट लाकर खाना सर्व करे तो हो सकता है थोड़ा अजीब लगे. लेकिन अब चौंकने की ज़रूरत नहीं है ओडिशा के भुवनेश्वर में एक रेस्टोरेंट है जहां दो रोबोट्स लोगों को फूड आइटम्स सर्व करते हैं. खास बात है कि ये दोनों रोबोट्स भारत में ही डेवेलप किए गए हैं. रेस्टोरेंट के मालिक ने इनका नाम 'रोबो शेफ' (Robo Chef) रखा है. यह रेस्टोरेंट ओडिशा के चंद्रसेखपुर में है. इस रेस्टोरेंट को बुधवार को खोला गया है.

एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक इन दोनों रोबोट्स का नाम चंपा और चमेली है. शाम में लोगों को ये रोबोट सर्व करते हुए दिखे और लोगों ने इसका वीडियो भी बनाया. ये रोबोट लोगों को खाना सर्व करते हैं हुए पूछते हैं 'आपण माने खुशी तो.' जिसका अर्थ होता है 'क्या आप खुश हैं'. इस वाक्य को 2019 के विधानसभा चुनाव के दौरान ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने प्रयोग किया था. ये रोबोट्स टेबल पर बैठे कस्टमर्स से ऑर्डर्स भी लेते हैं और उन्हें सर्व भी करते हैं.



इस रोबो शेफ के मालिक एक सिविल इंजीनियर हैं. उन्होंने बताया कि इस तरह से उन्होंने अमेरिका में देखा था. हालांकि, भारत में कुछ और रेस्टोरेंट में भी फूड सर्व करने के लिए रोबोट का प्रयोग किया जा रहा है लेकिन ये रोबोट चीन से आयात यानी इम्पोर्ट किए गए हैं. दूसरी खास बात ये है कि उनके लिए किसी तरह का खास ट्रैक नहीं बनाया गया है बल्कि वे यूनीफॉर्म तरीके से कहीं भी मूव कर सकते हैं.
Loading...

इस रेस्टोरेंट में जिन रोबोट्स को यूज़ किया गया है उनमें SLAM (Simultaneous Localization And Mapping) टेक्नॉलजी का प्रयोग किया गया है जिसके लिए किसी तरह के गाइडेड पाथ औऱ इन्वायरमेंट मॉडीफिकेशन की भी ज़रूरत नहीं होती. इन रोबोट्स में 17 तरह के सेंसर हैं जो कि आस पास के वातावरण की गर्मी, धुंआ, और लोगों को भी सेंस कर लेते हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गैजेट्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 17, 2019, 1:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...