फेसबुक और ट्विटर ने रूस-ईरान से जुड़े सैकड़ों एकाउंट पर लगाई रोक

सोशल मीडिया वेबसाइट फेसबुक ने भ्रामक राजनीतिक गतिविधियों में लिप्त सैकड़ों अकाउंट, ग्रुप्स और पेजों की पहचान करके उन पर रोक लगा दी है. ये अकाउंट और पेज ईरान और रूस से जुड़े हैं. फेसबुक ने मंगलवार को कहा कि उसने रूस और ईरान से जुड़े 652 पेजों, ग्रुप्स और अकाउंट को अनुचित गतिविधियों के लिये अपने प्लेटफॉर्म से हटा दिया है.

भाषा
Updated: August 23, 2018, 2:25 PM IST
फेसबुक और ट्विटर ने रूस-ईरान से जुड़े सैकड़ों एकाउंट पर लगाई रोक
प्रतीकात्मक फोटो
भाषा
Updated: August 23, 2018, 2:25 PM IST
सोशल मीडिया वेबसाइट फेसबुक ने भ्रामक राजनीतिक गतिविधियों में लिप्त सैकड़ों अकाउंट, ग्रुप्स और पेजों की पहचान करके उन पर रोक लगा दी है. ये अकाउंट और पेज ईरान और रूस से जुड़े हैं.

फेसबुक ने मंगलवार को कहा कि उसने रूस और ईरान से जुड़े 652 पेजों, ग्रुप्स और अकाउंट को "अनुचित गतिविधियों" के लिये अपने प्लेटफॉर्म से हटा दिया है. इसमें राजनीतिक से जुड़े मामलों को शेयर करना भी शामिल है.



ये  भी पढ़ेंः OPINION: फेक न्यूज़ एक बड़ा खतरा, पर इससे निपटने का उपाय हमारे पास नहीं

गौरतलब है कि फेसबुक 2016 के राष्ट्रपति चुनाव को प्रभावित करने के लिये रूसी एजेंटों द्वारा अपने प्लेटफॉर्म पर कैंपेन चलाने की बात सामने आने के बाद अपनी नीतियों को मजबूत करने में जुटा है. इसी प्रकार, अन्य सोशल मीडिया नेटवर्क भी भ्रामक राजनीतिक अभियानों के खिलाफ सक्रिय कदम उठा रहे हैं.

फेसबुक के बाद माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने भी गड़बड़ी में लिप्त रहने पर 284 अकाउंट बंद करने की जानकारी दी है. इनमें से कई अकाउंट ईरान में बनाये गये हैं.

ये  भी पढ़ेंः फेसबुक को खुद रोकना चाहिए फेक न्यूज़ का प्रसार- रविशंकर प्रसाद

Loading...

सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक ने कहा कि सामग्री की समीक्षा अभी पूरी नहीं हुयी है और ये भी बताने से मना किया इन अकाउंट से किस तरह का काम किया गया है. हालांकि, उसने इसकी सूचना अमेरिका और ब्रिटेन सरकार को दे दी है. साथ ही ईरान पर प्रतिबंध के मद्देनजर इसकी जानकारी अमेरिका के वित्त और विदेश विभाग को भी दी गयी है.

फेसबुक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मार्क जुकरबर्ग ने कहा, "बहुत कुछ है, जिसके बारे में हम नहीं जानते हैं. लोगों के साथ-साथ देश भी हर संभव तरीके से सेवाओं का दुरुपयोग करने की कोशिश कर रहे हैं."
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...