OPPO के नोएडा फैक्टरी में काम बंद, 3000 कर्मचारियों की होगी जांच

OPPO के नोएडा फैक्टरी में काम बंद, 3000 कर्मचारियों की होगी जांच
OPPO ने नोएडा प्लांट के प्रोडक्शन पर लगाई रोक

चीनी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी OPPO Mobile India ने अपने नोएडा स्थित मैन्युफैक्चरिंग प्लांट पर कामकाज को एक बार फिर से रोक दिया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. चीनी मोबाइल हैंडसेट विनिर्माता ओप्पो (OPPO) ने नोएडा स्थित अपनी फैक्टरी में काम रोक दिया है. कंपनी ने बताया कि जब तक उसके सभी 3,000 कर्मचारियों की कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण की जांच पूरी नहीं हो जाती, फैक्टरी में काम बंद रहेगा. कंपनी ने उत्तर प्रदेश सरकार की अनुमति मिलने के बाद करीब 30 फीसदी कर्मचारियों के साथ शुक्रवार को परिचालन फिर से शुरू किया था. कंपनी ने कोरोना वायरस परीक्षण के लिए उन सभी कर्मचारियों के सैंपल भेजे हैं, जिन्हें काम में शामिल होना है. नोएडा स्थि​त ओप्पो मोबाइल कंपनी के 6 कर्मचारी कोविड19 पॉजिटिव पाए गए हैं. इसके बाद से फैक्ट्री में कामकाज रोक दिया गया है. इस प्लांट में 8 मई को कामकाज शुरू हुआ था.




ओप्पो ने रविवार देर रात एक बयान में कहा, अपने सभी कर्मचारियों और नागरिकों की सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए हमने ग्रेटर नोएडा स्थित विनिर्माण संयंत्र में सभी तरह का परिचालन रोक दिया है और 3,000 से अधिक कर्मचारियों के लिए कोविड-19 (COVDI-19O जांच शुरू की है, जिसके परिणाम की प्रतीक्षा है. कंपनी ने कहा कि सिर्फ नकारात्मक परीक्षण परिणाम वाले कर्मचारियों को ही फिर से काम करने की इजाजात दी जाएगी.


ई-कॉमर्स कंपनियों को राहत


18 मई से Lockdown 4.0 शुरू हो गया है. इस नए लॉकडाउन में Amazon, Flipkart जैसी ई-कॉमर्स कंपनियों को राहत मिले सकती है. ई-कॉमर्स कंपनियां अब रेड जोन में भी डिलीवरी जल्द शुरू कर सकती है. ई-कॉमर्स कंपनियां अब अपनी डिलीवरी सर्विस को सभी मैट्रो सिटीज में रिज्यूम कर सकती है. ई-कॉमर्स कंपनियों ने पिछले दिनों तीसरे लॉकडाउन के दौरान ग्रीन और ऑरेंज जोन में अपनी सर्विस शुरू कर दी थी.


आज से ऑफिस में बदल जाएगा काम करने का तरीका
कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) के प्रकोप को रोकने के लिए सरकार ने लॉकडाउन को 31 माई तक बढ़ा दी है. सरकार ने लॉकडाउन-4 (Lockdown-4) में कुछ शर्तों के साथ ऑफिस खोलने की इजाजत दी है. गृह मंत्रालय ने अपील की है कि अगर संभव है तो अभी घर से काम करना जारी रखें. मतलब, यह जिम्मेदारी कंपनी और कर्मचारी की है कि वे सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए ऑफिस जाने से बचें और घर से काम करते रहें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading