लाइव टीवी

चोरी हो चुका मोबाइल ढूंढना हुआ आसान, सरकार ने लॉन्च की ये नई सेवा

News18Hindi
Updated: December 30, 2019, 6:00 PM IST

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सोमवार को एक नया वेब पोर्टल लॉन्च किया, जिसकी मदद से चोरी हो चुके मोबाइल फोन को ब्लॉक और ट्रैक किया जा सकेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 30, 2019, 6:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय संचार व सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सोमवार को एक खास वेब पोर्टल लॉन्च किया. इस वेब पोर्टल की मदद से चोरी हो चुके मोबाइल फोन को ब्लॉक और ट्रैक किया जाएगा ताकि कोई उसका गलत इस्तेमाल न कर सके. फिलहाल, यह वेब पोर्टल केवल दिल्ली के लिए होगा. इससे पहले पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर इसे मुंबई में​ सितंबर, 2019 में लॉन्च किया गया था. अब दिल्ली में इस खास पोर्टल के लॉन्च होने के बाद आम लोग फोन चोरी होने पर ब्लॉक करा सकेंगे. साथ ही लोगों को डेटा चोरी का खतरा भी कम हो जाएगा. साथ ही पुलिस इस पोर्टल की मदद से चोरी गए फोन को ट्रैक भी कर सकेगी.

यह भी पढ़ें: 31 दिसंबर के बाद इन स्मार्टफोन्स में नहीं चलेगा WhatsApp

देश के सभी मोबाइल फोन्स का तैयार किया जाएगा डेटा बेस
दूरसंचार विभाग ने इस वेब पोर्टल के लिए देश के सभी मोबाइल फोन्स का डेटाबेस तैयार किया है, जिसे सेंट्रल इक्विपमेंट आइडेंटिटी रजिस्टर (CEIR) का नाम दिया गया है. इसमें देश के सभी मोबाइल फोन्स का IMEI नंबर रजिस्टर किया गया है. अगर आपका फोन चोरी हो जाता है तो पुलिस में शिकायत करने के बाद यहां से आपका फोन ब्लॉक कर दिया जाएगा. फिर वह किसी भी ऑपरेटर के नेटवर्क पर काम नहीं करेगा. इस डेटाबेस की वजह से पुलिस को भी यह फोन खोजने में आसानी होगी. देश में कहीं भी इसका प्रयोग किया जा रहा हो पुलिस आसानी से इसे खोज निकालेगी.

यह भी पढ़ें: सस्ता हो गया Samsung Galaxy का यह चार कैमरे वाला फोन, जानें नई कीमत

ऐसे ब्लॉक करा सकते हैं चोरी हो चुके फोन

>> अगर आपका फोन चोरी हो गया है तो सबसे पहले आपको पुलिस में एक शिकायत करनी होगी. इस शिकायत की एक कॉपी आप अपने पास जरूर रखें.

>> इसके बाद अपने टेलिकॉम सर्विस प्रोवाइडर की मदद से नए सिम कार्ड के​ लिए आवेदन करें. नया सिम कार्ड पुराने नंबर के लिए ही लें.

>> इस वेब पोर्टल पर आवेदन करने से पहले आपको अपने डॉक्युमेंट्स तैयार रखने की जरूरत होगी. इसमें पुलिस रिपोर्ट की एक कॉपी, पहचान पत्र होना चाहिए. अगर आपके पास इस मोबाइल का बिल है तो ये भी उपलब्ध कराएं.

>> इसके बाद इस साइट पर जाकर आपको एक रजिस्ट्रेशन नंबर भरना होगा ताकि IMEI को ब्लॉक किया जा सके. साथ ही नए डॉक्युमेंट भी अपलोड करने होंगे.

>> जब आप इस फॉर्म को सबमिट करेंगे तो आपको एक रिक्वेस्ट आईडी मिलेगी. इस आईडी की मदद से आप अपने रिक्वेस्ट स्टेटस के बारे में पता लगा सकते हैं. आप इसी की मदद से भविष्य में इस IMEI नंबर को अनब्लॉक कराने के लिए इस्तेमाल करा सकते हैं.

यह भी पढ़ें:  14 हज़ार रुपये वाली HD LED TV को सिर्फ 7,999 रुपये में खरीदने का आज है मौका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 30, 2019, 4:43 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर