लाइव टीवी

PUBG Mobile ने लॉन्च किया एंटी-चीट सिस्टम, चीटिंग करने वाले हो जाएंगे गेम से बाहर

News18Hindi
Updated: October 30, 2019, 4:25 PM IST
PUBG Mobile ने लॉन्च किया एंटी-चीट सिस्टम, चीटिंग करने वाले हो जाएंगे गेम से बाहर
पबजी में चीटिंग किए जाने की बातें पिछले कुछ दिनों से सामने आ रही हैं. ऐसा देखा गया है कि पबजी गेम के अंदर चीटिंग, हैकिंग और गलत तरीके का प्रयोग करके गेम को जीतने की कोशिश की जाती है. इसी समस्या से निपटने के लिए गेम डेवलपर्स ने नया टूल डेवलप किया है.

सिक्युरिटी टीम ऑब्ज़र्वेशन टेक्नीक का भी यूज़ कर रही है जिसके ज़रिए गलत तरीकों को अपनाकर गेम जीतने की कोशिश करने वालों को पहचानने में मदद मिलेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2019, 4:25 PM IST
  • Share this:
पबजी मोबाइल (PUBG Mobile) को सीओडी मोबाइल (COD Mobile) से काफी कॉम्पटीशन का सामना करना पड़ रहा है. हाल ही में हमने इसमें एक नया अपडेट देखा जिसमें नए पेलोड (New Payload in PUBG) के साथ हेलीकॉप्टर उड़ाने की योग्यता और हेवी आर्टिलरी मिल रही थी. अब इस खेल में एक नया फीचर देखने को मिलेगा.

दरअसल, पबजी में चीटिंग किए जाने की बातें पिछले कुछ दिनों से सामने आ रही हैं. ऐसा देखा गया है कि पबजी गेम के अंदर चीटिंग, हैकिंग और गलत तरीके का प्रयोग करके गेम को जीतने की कोशिश की जाती है. इसी समस्या से निपटने के लिए गेम डेवलपर्स ने नया टूल डेवलप किया है. चीटिंग को पूरी तरह से खत्म करने के लिए पबजी मोबाइल ने एक एंटी-चीटिंग सिस्टम बनाया है इसमें एडवॉन्स्ड रियल टाइम डिटेक्शन टेक्नॉलजी का प्रयोग किया गया है.

यह नया डिटेक्शन सॉफ्टवेयर संदेह वाले सॉफ्टवेयर को स्कैन कर सकता है. इस सॉफ्टवेयर को डिटेक्ट करने के लिए काफी बड़े स्तर पर डेटा का इस्तेमाल किया जाएगा. इसके ज़रिए लगातार चीटिंग के नए नए तरीकों से निपटने में मदद मिलेगी.

इसके अलावा सिक्युरिटी टीम ऑब्ज़र्वेशन टेक्नीक का भी यूज़ कर रही है जिसके ज़रिए गलत तरीकों को अपनाकर गेम जीतने की कोशिश करने वालों को पहचानने में मदद मिलेगी. टीम गेमप्ले का प्रयोग करके अनफेयर सॉफ्टवेयर के प्रयोग या अनयुज़ुअल गेम के बारे में पता लगा सकती है क्योंकि ऐसा होने पर डेटा लॉस होता है. पता लगने पर डिटेक्शन सॉफ्टवेयर का प्रयोग करके डेवेलपर्स चीटिंग करने वालों को बीच गेम से भी हटा सकते हैं.

टेनसेंट गेम्स (Tencent Games) के ग्लोबल पब्लिशिंग डिपार्टमेंट के जनरल मैनेजर विंसेंट वॉन्ग ने कहा, 'हम चाहते हैं कि प्लेयर्स को 100 फीसदी फेयर गेमप्ले एक्सपीरिएंस मिले. हम रोज़ाना जिस गेम पर काम करते हैं उस पर हमें गर्व है. हालांकि चीटिंग की वजह से हमारा काम हल्का हो जाता है. हम कोशिश कर रहे हैं कि किसी भी तरह से चीटर्स को इससे दूर रखा जाए और इसके लिए सैकड़ों टीम मेंबर्स इस काम को करने के लिए दिन रात लगे हुए हैं.'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 30, 2019, 4:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...