होम /न्यूज /तकनीक /

भारत में 2020 के अंतिम 6 महीनों में 10 करोड़ स्मार्टफोन का हुआ शिपमेंट, जानिए कौन सी कंपनी रही पहले स्थान पर

भारत में 2020 के अंतिम 6 महीनों में 10 करोड़ स्मार्टफोन का हुआ शिपमेंट, जानिए कौन सी कंपनी रही पहले स्थान पर

भारत में स्मार्टफोन कारोबार

भारत में स्मार्टफोन कारोबार

सीएमआर (CMR) ने अनुमान जताया है कि इस साल स्मार्टफोन बाजार 10 फीसदी की दर से वृद्धि कर सकती है.

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से पूरी दुनिया ही प्रभावित हुई. वहीं, इस मंदी में भारतीय बाजार में रिकॉर्ड स्मार्टफोन आए. दरअसल, पिछले साल 2020 के अंतिम छह महीनों में भारतीय बाजार में रिकॉर्ड 10 करोड़ स्मार्टफोन की शिपमेंट (Shipment) हुई. शुक्रवार को जारी एक साइबर मीडिया रिसर्च रिपोर्ट (Cybermedia Research Report) में इसकी जानकारी दी गई.

    2020 में 19 फीसदी हिस्सेदारी के साथ सैमसंग पहले स्थान पर
    रिपोर्ट में कहा गया कि 2020 में 19 फीसदी हिस्सेदारी के साथ सैमसंग पहले स्थान पर रही. हालांकि दिसंबर तिमाही में चीन की मोबाइल फोन कंपनी श्याओमी 27 फीसदी बाजार हिस्सेदारी के साथ पहले स्थान पर रही.

    ये भी पढ़ें- बड़ी खुशखबरी: अप्रैल से पटरी पर दौड़ने लगेंगी सभी रूट्स की ट्रेनें! इस तरह फायदे में रहेंगे आप?

    2020 में पहले 6 महीने में आई थी गिरावट
    दिसंबर तिमाही के लिए सीएमआर मोबाइल हैंडसेट समीक्षा रिपोर्ट के मुताबिक, ”2020 के पहले छह महीने में स्मार्टफोन शिपमेंट में ठीक-ठाक गिरावट आई थी. इससे कंपनियों को अंतिम छह महीने में मजबूत वापसी करने में मदद मिली. ईकोनॉमी जैसे-जैसे क्रमिक तौर पर खुल रही है, उपभोक्ता मांग में तेजी आ रही है. इससे स्मार्टफोन इंडस्ट्री की वृद्धि को समर्थन मिला और पहली बार 2020 के अंतिम छह महीनों में शिपमेंट 10 करोड़ को पार कर गई.”

    ये भी पढ़ें- क्या एलन मस्क खुद को समझते हैं Alien? आखिर क्यों दिया ऐसा बयान, जानिए पूरा मामला..

    10 फीसदी की दर से वृद्धि कर सकती है स्मार्टफोन इंडस्ट्री
    सीएमआर ने अनुमान व्यक्त किया कि इस साल स्मार्टफोन बाजार 10 फीसदी की दर से वृद्धि कर सकती है. इस दौरान 5जी स्मार्टफोन का शिपमेंट 10 गुना बढ़कर तीन करोड़ पहुंच सकता है. सीएमआर ने कहा कि एप्पल ने वृद्धि की गति को बनाए रखा है और टॉप 10 स्मार्टफोन कंपनियों में छठे स्थान पर रही है.

    Tags: Smartphone, Tech news hindi

    अगली ख़बर