लाइव टीवी

रिलायंस जियो ने कहा- 'टैरिफ पर करेंगे सरकारी नियमों का पालन'

News18Hindi
Updated: November 19, 2019, 11:30 PM IST
रिलायंस जियो ने कहा- 'टैरिफ पर करेंगे सरकारी नियमों का पालन'
रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने कहा है कि दूसरे टेलिकॉम ऑपरेटर्स (Telecom Operators) की तरह हम भी सरकार के साथ काम करेंगे और इंडस्ट्री को मजबूत करने के लिए नियमों का पालन करेंगे.

रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने कहा है कि दूसरे टेलिकॉम ऑपरेटर्स (Telecom Operators) की तरह हम भी सरकार के साथ काम करेंगे और इंडस्ट्री को मजबूत करने के लिए नियमों का पालन करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 19, 2019, 11:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने टैरिफ के दाम बढ़ने को लेकर कहा है कि वह इस मामले में सरकारी नियमों का पालन करेगा. रिलायंस जियो के मुताबिक TRAI टेलिकॉम टैरिफ के रिवीजन के लिए एक बातचीत की प्रक्रिया शुरू करने वाली है. जिसमें टैरिफ (Tariff) को लेकर नए बदलावों को तय किया जा सकता है.

बता दें, अगर आप वोडाफोन-आइडिया (Vodafone-Idae) या एयरटेल ( Bharti Airtel) के ग्राहक हैं, तो आपको टैरिफ प्लान के लिए 1 दिसंबर से ज्यादा खर्च करना होगा. वोडाफोन-आइडिया लिमिटेड (वीआईएल) और भारती एयरटेल की ओर से कहा गया है कि कंपनियां अपने टैरिफ प्लान 1 दिसंबर से महंगे करने जा रही हैं. फिलहाल कंपनी ने ये नहीं कहा है कि किस प्लान में कितने रुपये बढ़ाए जाएंगे, लेकिन जल्द ही इसका भी ऐलान कर दिया जाएगा.

इस मसले पर रिलायंस जियो ने क्या कहा?
रिलायंस जियो (Relinace Jio) ने अपनी प्रेस रिलीज में कहा है कि मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हम मानते हैं कि TRAI टेलिकॉम टैरिफ के रिवीजन के लिए एक बातचीत की प्रक्रिया शुरू करने वाला है. दूसरे ऑपरेटर्स की तरह हम भी सरकार के साथ काम करेंगे और इंडस्ट्री को मजबूत करने के लिए नियमों का पालन करेंगे ताकि भारतीय ग्राहकों को फायदा हो. इसके लिए अगले कुछ हफ्तों में टैरिफ में यथोचित बढ़ोत्तरी कर सकते हैं लेकिन यह इतना ही होगा कि डेटा के उपभोग या डिजिटलीकरण की ओर बढ़ने में और निवेश बनाए रखने पर इसका कोई बुरा असर न पड़े.

रिलायंस जियो ने लगातार इस सेक्टर की स्थिरता को बनाए रखने की अपनी प्रतिबद्धता की बात भी कही है. जियो ने कहा है कि वह टेलिकॉम सर्विसेज (Telecom Services) के बाजार में गुणवत्ता और सेवाओं के आधार पर प्रतिस्पर्धा करेगा. साथ ही ग्राहकों को लेकर जुनूनी एक संगठन के तौर पर वह हमेशा अपने सारे ग्राहकों को सर्वश्रेष्ठ सेवाएं देगा. जियो हर चीज के केंद्र में अपने ग्राहकों को रखेगा और यह सुनिश्चित करेगा कि ग्राहकों को लगातार फायदा हो. जियो भारत की दुनिया के सबसे बड़े डेटा मार्केट के तौर पर पूरी दुनिया में नेतृत्व करने में मदद करता रहेगा.

इसके अलावा जियो ने राष्ट्रीय डिजिटल एजेंडा को लेकर इन बातों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जताई है-

1. भारत के डिजिटल इको-सिस्टम में पूरी तरह से भाग लेने और इसका अनुभव करने के लिए 40 करोड़ 2G उपभोक्ताओं को लेकर आना.
Loading...

2. ग्राहकों को लेकर जुनूनी एक संगठन के तौर पर हमारे सभी जियो कस्टमर्स को सर्वश्रेष्ठ क्वालिटी और कस्टमर एक्सपीरियंस देना.

3. डिजिटल ईको-सिस्टम में लगातार नए प्रयोग करते रहना ताकि भारतीय ग्राहकों को सस्ती सेवाएं और उत्पाद उपलब्ध कराए जा सकें.

4. हमेशा नियमों के मुताबिक चलने और इंडस्ट्री के साथ काम करने ताकि टेलिकॉम सेक्टर को एक भारतीय अर्थव्यवस्था का जीवंत हिस्सा साबित किया जा सके और एक हमारे देश की वृद्धि के लिए एक महत्वपूर्ण इंजन साबित हो.

वोडाफोन और एयरटेल क्यों बढ़ाने जा रहे हैं रेट्स - वोडाफोन-आइडिया की ओर से कहा गया है कि कंपनी अपने टैरिफ की दरें 1 दिसंबर, 2019 से बढ़ाने जा रही है. टेलीकॉम ऑपरेटर की ओर से कहा गया है कि उसकी ओर से लिए जा रहे भारत में मोबाइल डेटा चार्जेस दुनियाभर में सबसे कम हैं. तेजी से बढ़ रही मोबाइल डेटा सर्विसेज की जरूरत में भी कम से कम दाम में सब्सक्राइबर्स को बेनिफिट्स ऑफर किए जा रहे हैं. एयरटेल ने भी ट्राई के प्रयासों को जरूरी और सही बताते हुए अपने प्लान महंगे करने की घोषणा की.

बता दें कि अन्य सभी कंपनियों ने टैरिफ बढ़ाने के पीछे सरकार द्वारा वसूले जाने वाले AGR का ही हवाला दिया है. हालांकि वोडाफोन-आइडिया और एयरटेल को ज्यादा पैसे देने हैं.

डिस्क्लेमरन्यूज़18 हिंदी रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 19, 2019, 7:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...