लाइव टीवी

Samsung लॉन्च कर सकता है कई भाषाओं में बात करने वाला ये डिवाइस, जारी किया टीज़र

News18Hindi
Updated: December 26, 2019, 5:36 PM IST
Samsung लॉन्च कर सकता है कई भाषाओं में बात करने वाला ये डिवाइस, जारी किया टीज़र
AI बेस्ड इस प्रोडक्ट को सैमसंग टेक्नॉलजी और एडवांस्ड रिसर्च लैब्स (Star labs) के साथ मिलकर तैयार किया जा रहा है.

AI बेस्ड इस प्रोडक्ट को सैमसंग टेक्नॉलजी और एडवांस्ड रिसर्च लैब्स (Star labs) के साथ मिलकर तैयार किया जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 26, 2019, 5:36 PM IST
  • Share this:
दक्षिण कोरिया की स्मार्टफोन निर्माता कंपनी सैमसंग (Samsung) अपना आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस (Artificial Intelligence) पर आधारित प्रोडक्ट अगले साल लॉस वेगास में होने वाले इवेंट CSE 2020 में लॉन्च करने वाली है. इस प्रोडक्ट का नाम नियॉन (NEON) है. हालांकि, कंपनी ने अभी भी बिक्सबी (Bixby) नाम से डिजिटल असिस्टेंट लॉन्च कर रखा है लेकिन अब नियॉन के जरिए वह आर्टीफीशियल असिस्टेंट की दुनिया में अपने पैर जमाना चाहती है. टीजर के मुताबिक सैमसंग नियॉन ह्यूमनॉइड आर्टीफीशियल इंटेलीजेंस का ऐडवॉन्स्ड फॉर्म होगा जिसके पास कई भाषाओं में बात करने की क्षमता हो सकती है.

AI बेस्ड इस प्रोडक्ट को सैमसंग टेक्नॉलजी और एडवांस्ड रिसर्च लैब्स (Star labs) के साथ मिलकर तैयार किया जा रहा है. 2017 में कंपनी ने Bixby लॉन्च किया था और इसे अब सैमसंग के स्मार्टफोन्स में बतौर वर्चुअल असिस्टेंट दिया जाता है. हालांकि, सैमसंग ने नियॉन से जुड़ी कोई भी जानकारी अभी शेयर नहीं की है लेकिन STAR Labs ने इसके बारे में बताया है. अभी तक जितनी जानकारियां सामने आई हैं उनके मुताबिक ये ह्यूमन टच वाला AI बेस्ड वर्चुअल असिस्टेंट होगा जिसमें हिंदी सहित कई लैंग्वेज का सपोर्ट दिया जाएगा.



STAR Labs के प्रेसिडेंट और सीईओ प्रणव मिस्त्री भारतीय मूल के हैं. मिस्त्री ने एक ट्वीट में लिखा है, 'क्या आप कभी Artificial NEON से मिले हैं'. दावा किया जा रहा है Neon के तहत यूजर्स को ह्यूमन लेवल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का एक्स्पीरिएंस दिया जाएगा. इसको देखने से पता चलता है कि नियॉन एआई असिस्टेंट के लिए ह्यूमन इंटरफेस की तरह काम करेगा. ह्यूमन लेवल आर्टीफीशियल इंटेलीजेंस का अर्थ एक ऐसे आर्टीफीशियल इंटेलीजेंस से है जो कि वह लगभग सब कुछ कर सकता है जो इंसान कर सकते हैं.बता दें कि जहां एक तरफ अमेजन, ऐपल और गूगल ने अपना एआई बेस्ड असिस्टेंट डेवेलप किया है वहीं सैमसंग भी अब इस ग्रुप में शामिल होना चाहता है. लेकिन यह देखना होगा कि सैमसंग इन्हें टक्कर दे पाएगा या नहीं.

ये भी पढ़ेंः नए साल पर Jio लाया 2020 प्लान, साल भर की वैलिडिटी के साथ मिलेगा रोज़ाना 1.5GB डेटा
रूस ने बनाया अपना इंटरनेट सिस्टम, दुनिया के कई देशों ने की आलोचना
बदल जाएगा अब आपका WhatsApp, आ गया नया फीचर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गैजेट्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 26, 2019, 5:36 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर