लाइव टीवी

COVID-19: सरकार का निर्देश, फर्जी खबरों को कंट्रोल करें सभी सोशल मीडिया कंपनी

News18Hindi
Updated: March 22, 2020, 4:27 PM IST
COVID-19: सरकार का निर्देश, फर्जी खबरों को कंट्रोल करें सभी सोशल मीडिया कंपनी
File Photo

फेसबुक, यूट्यूब, (youtube) ट्विटर, (twitter) टिक-टॉक (tiktok) और शेयरचैट (Sharechat) जैसी टॉप सोशल मीडिया कंपनियों को फर्जी खबरों पर कंट्रोल के लिए लिखित निर्देश दिए गए हैं...

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 22, 2020, 4:27 PM IST
  • Share this:
भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण को लेकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर फर्जी खबरें तेजी से फैल रही हैं. ऐसे में सरकार ने एडवाइजरी जारी कर कहा है कि अपने प्लेटफॉर्म पर गलत सूचना के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए वे उचित कदम उठाएं. फेसबुक, गूगल के स्वामित्व वाले यूट्यूब, (youtube) ट्विटर, (twitter) टिक-टॉक (tiktok) और शेयरचैट (Sharechat) जैसी टॉप सोशल मीडिया कंपनियों को लिखित निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने प्लेटफॉर्म को इस बाबत सैनिटाइज (साफ) करें.

एडवाइजरी में कहा गया है कि कोरोनावायरस का प्रकोप अब वैश्विक चिंता का विषय बन गया है और ऐसी रिपोर्ट्स हैं कि गलत सूचना के प्रसार और वायरस से संबंधित गलत डेटा शेयर करने का एक चलन बन गया है, जिससे लोगों में दहशत पैदा हो रही है.





सरकार ने सोशल मीडिया कंपनी को जागरूकता अभियान शुरू करने के साथ-साथ ही कोविड-19 को लेकर प्रामणिक जानकारी को बढ़ावा देने को कहा है. सरकार ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म्स से यह भी कहा कि वे यूज़र्स को कोरोनवायरस के संबंध में झूठी खबरें अपलोड या प्रसारित न करने के लिए जागरूक करें.

देश के शीर्ष साइबर कानून विशेषज्ञों में से एक पवन दुग्गल ने कहा कि साइबर अपराधियों के समूह दहशत फैला रहे हैं और भारत सरकार असहाय है.

(ये भी पढ़ें- Jio का बेहद सस्ता रिचार्ज, महीने भर के लिए मिलेगी फ्री कॉलिंग और डेटा भी…)


सरकार ने लॉन्च  किया WhatsApp चैटबोट
कोरोना वायरस को लेकर जागरुकता वाले मैसेज के साथ फेक मैसेज भी खूब फैलाया जा रहा है. ऐसे में इस तरह की खबरों पर रोक और इससे जुड़ी सही सूचना देने के लिए भारतीय सरकार (Government of India) ने वॉट्सऐप चैटबोट ‘MyGov Corona Helpdesk’ बनाया है. इस चैटबोट के ज़रिए यूज़र वॉट्सऐप पर COVID-19 से  जुड़ा कोई भी सवाल पूछ सकेंगे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऐप्स से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 22, 2020, 4:23 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर