लाइव टीवी

खतरनाक मोड़ पर है सोशल मीडिया का दुरुपयोग, सरकार को देना ही चाहिए दखल- सुप्रीम कोर्ट

News18Hindi
Updated: September 24, 2019, 3:58 PM IST
खतरनाक मोड़ पर है सोशल मीडिया का दुरुपयोग, सरकार को देना ही चाहिए दखल- सुप्रीम कोर्ट
सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने कहा कि टेक्नॉलजी खासकर सोशल मीडिया का दुरुपयोग खतरनाक मोड़ पर पहुंच चुका है और अब सरकार को इसमें दखल देना ही चाहिए.

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने कहा कि टेक्नॉलजी खासकर सोशल मीडिया का दुरुपयोग खतरनाक मोड़ पर पहुंच चुका है और अब सरकार को इसमें दखल देना ही चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 24, 2019, 3:58 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. फेसबुक (Facebook), ट्विटर (Twitter) व दूसरे सोशल मीडिया (Social Media) प्लेटफॉर्म को आधार से लिंक (Aadhaar Link) करने से जुड़ी याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सोशल मीडिया के दुरुपयोग ने खतरनाक मोड़ ले लिया है और इस पर अंकुश लगाने के लिए निश्चित समय के भीतर दिशानिर्देश बनाने की जरूरत है.

जस्टिस दीपक गुप्ता और जस्टिस अनिरुद्ध बोस की सुप्रीम कोर्ट बेंच ने किसी मैसेज या ऑनलाइन पोस्ट डालने वाले का पता लगाने में कुछ सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की असमर्थता पर गहरी चिंता व्यक्त की और कहा कि अब इसमें सरकार को दखल देना चाहिए.

बेंच ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट इस वैज्ञानिक मुद्दे पर निर्णय लेने में सक्षम नहीं है और इन मुद्दों से निबटने के लिये सरकार को ही उचित दिशानिर्देश बनाने होंगे.

बता दें कि इससे पहले आधार को सोशल मीडिया से लिंक करने के मद्रास हाईकोर्ट में चल रहे मुकदमों को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court of India) में पेश करने के लिए अर्ज़ी दी गई थी. हालांकि, तमिलनाडु सरकार ने इसे मद्रास हाईकोर्ट (Madras High Court) में ही चलने देने की अपील की थी.

वहीं, सोशल नेटवर्किंग साइट्स ने सुप्रीम कोर्ट को बताया था कि उनके खिलाफ पारित किसी भी आदेश का वैश्विक असर होगा, इसलिए शीर्ष अदालत को इस तरह के एक महत्वपूर्ण मुद्दे पर फैसला करना चाहिए और विभिन्न हाईकोर्ट में लंबित सभी मामलों को सुप्रीम में हस्तांतरित किया जाना चाहिए.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 24, 2019, 1:40 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...