होम /न्यूज /तकनीक /दूरसंचार मंत्री ने लॉन्च किया मल्टी-एक्सेस इंटरनेट ऑफ थिंग्स डिवाइस, जानें क्या होगा फायदा

दूरसंचार मंत्री ने लॉन्च किया मल्टी-एक्सेस इंटरनेट ऑफ थिंग्स डिवाइस, जानें क्या होगा फायदा

प्रतीकात्मक तस्वीर.

प्रतीकात्मक तस्वीर.

सरकार की देश में 5जी प्रौद्योगिकी के लिए 100 प्रयोगशालाएं स्थापित करने की योजना है जिनमें कम से कम 12 विद्यार्थियों को ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

सरकार की देश में 5जी प्रौद्योगिकी के लिए 100 प्रयोगशालाएं स्थापित करने की योजना है.
दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने एक मल्टी-एक्सेस इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी) लॉन्च किया है.
नई तकनीक एक 'मेक इन इंडिया' आईओटी समाधान है.

नई दिल्ली. दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने रविवार को कहा कि सरकार की देश में 5जी प्रौद्योगिकी के लिए 100 प्रयोगशालाएं स्थापित करने की योजना है जिनमें कम से कम 12 विद्यार्थियों को प्रशिक्षण देने एवं प्रयोग करने के लिए उपयोग में लायी जाएंगी. मंत्री ने इंडियन मोबाइल कांग्रेस में शिरकत कर रही कंपनियों से नए दूरसंचार विधयेक पर अपनी राय देने का भी आह्वान किया. इस विधेयक के माध्यम से सरकार का लक्ष्य लाइसेंस व्यवस्था को आसान बनाना है.

वैष्णव ने कहा, ‘हम देशभर में 5 जी की 100 प्रयोशालाएं स्थापित करने जा रहे हैं.  मैं दूरसंचार उद्योग से साथ आने और इन 100 प्रयोगशालाओं में से कम से कम 12 को विद्यार्थियों को प्रशिक्षण देने एवं प्रयोग करने के वास्ते दूरसंचार इनक्यूबेटर के रूप में परिवर्तित करने का अनुरोध करता हूं.’

(ये भी पढ़ें- WhatsApp पर किसने किया है आपको Block, इस ट्रिक से चुटकियों में करें पता)

उन्होंने कहा, ‘सरकार सभी दूरसंचार कंपनियों के वास्ते लाइसेंस व्यवस्था को आसान बनाने की दिशा में बढ़-चढ़कर काम कर रही है. मैं स्टार्टअप और एमएसमई की ऊर्जा देखकर वाकई खुश हूं जो लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में जा रहे हैं.’

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल भी इंडिया मोबाइल कांग्रेस में पहुंचे और कहा कि 5 जी की शुरुआत न केवल भारत बल्कि दुनिया के लिए निर्णायक क्षण है.

(ये भी पढ़ें-खुशखबरी! 25 हज़ार रुपये सस्ता मिल रहा है Apple का ये पॉपुलर iPhone, अमेज़न सेल में है ऑफर)

लॉन्च हुआ मल्टी-एक्सेस IoT
इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पेश किए गए ‘मेक इन इंडिया मिशन’ को गति देने के लिए दूरसंचार मंत्री अश्विनी वैष्णव ने एक मल्टी-एक्सेस इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी) लॉन्च किया है. ये डिवाइस बुनियादी ढांचे, प्रौद्योगिकी और सेवाओं में अंतराल को पाटने में मदद करता है. नई तकनीक एक ‘मेक इन इंडिया’ आईओटी समाधान है, जिसे सरकार के आत्मानिर्भर भारत अभियान के तहत लॉन्च किया गया है.

Tags: India Mobile Congress, Internet, Tech news, Tech news hindi

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें