जल्द किसी को फोन करने से पहले आपको लगाना होगा ये एक नंबर, TRAI ने दूरसंचार विभाग से की सिफारिश

File Photo
File Photo

जानें मोबाइल नंबर, लैंडलाइन और कॉल को लेकर क्या है टेलीकॉम रेगुलेटरी ऑथेरिटी ऑफ इंडिया TRAI का प्लान...

  • Share this:
देश में कम लैंडलाइन ब्रॉडबैंड (landline broadband) को लेकर टेलीकॉम रेगुलेटर TRAI और दूरसंचार विभाग (telecom department) में ठन गई है. सीएनबीसी- आवाज़ को सूत्रों से खबर मिल रही है कि TRAI ने देश में कम ब्रॉडबैंड के लिए दूरसंचार विभाग को जिम्मेदार ठहराया है. उसके रवैये के खिलाफ PMO को चिट्टी लिखी है. इसमें ये कहा गया है कि ब्रॉडबैंड की संख्या बढ़ाने की सिफारिश की दूरसंचार विभाग अनदेखी कर रही है.

कम लैंडलाइन ब्रॉडबैंड को लेकर ट्राई दूरसंचार विभाग से नाराज़ है, जिसके चलते DoT, TRAI की सिफारिशें मंजूर नहीं कर रहा है. बता दें कि TRAI ने 2017 में ब्रॉडबैंड बढ़ाने की सिफारिश की थी  लेकिन पिछले 4 साल से  TRAI की सभी सिफारिशें अटकी है.

(ये भी पढ़ें-सस्ते में मिल रहा है Xiaomi का 64 मेगापिक्सल कैमरे वाला दमदार स्मार्टफोन, मिलेगी 4,500 mAh की बैटरी)



केबल टीवी से इंटरनेट कनेक्शन की सिफारिश अटकी है. साथ ही पब्लिक Wifi हॉटस्पॉट से ब्रॉडबैंड की सिफारिश को मंजूर नहीं किया गया है. TRAI ने PMO को चिट्टी लिखकर इस बात की शिकायत की है. भारत में मात्र 2 करोड़ लोगों के पास लैंडलाइन ब्रॉडबैंड है. गौरतलब हो कि भारत में 65 करोड़ लोग इंटरनेट के यूज़र्स है.
वहीं अब जल्द ही किसी को फोन करने से पहले आपको शून्य (0) लगाना होगा. टेलीकॉम रेगुलेटर TRAI ने दूरसंचार विभाग से ये सिफारिश की है. इसके अलावा फिलहाल ट्राई ने मोबाइल नंबर को 11 डिजिट को करने का प्रस्ताव को ठुकरा दिया है. नंबर रिसोर्स को लेकर TRAI की नई तैयारी शुरु है जिसके बाद मोबाइल नंबर 6, 4 , 3, 2 डिजिट से भी शुरू होगा. साथ ही मशीन-टू-मशीन 13 डिजिट के नंबर का इस्तेमाल कर सकेंगे.
(असीम मनचंदा, संवाददाता, CNBC आवाज़)

(ये भी पढ़ें-बेहद सस्ता हो गया Samsung का 3 कैमरे वाला बजट फोन, मिलेगी 6000mAh की बैटरी)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज