Home /News /tech /

भारत में इस साल आने वाला है 5G, जानिए कैसे बदल जाएगी आपकी दुनिया

भारत में इस साल आने वाला है 5G, जानिए कैसे बदल जाएगी आपकी दुनिया

 5G तकनीक ही इस समय सबसे ज्यादा स्पीड देने वाली तकनीक मानी जाती है.

5G तकनीक ही इस समय सबसे ज्यादा स्पीड देने वाली तकनीक मानी जाती है.

5G टेक्नॉलजी के भारत में आने पर कई तरह के बदलाव देखने को मिलेंगे. घर में प्रयोग किए जाने वाले रोज़मर्रा के सामानों से लेकर बिजनेस और कृषि के क्षेत्र में भी बड़े बदलाव आएंगे.

    भारत में 5जी टेक्नॉलजी के आने की कवायद एक बार फिर शुरू हो गई है. क्योंकि टेलीकॉम कंपनियों और दूरसंचार विभाग के बीच इसके ट्रायल को लेकर सहमति बन गई है. इसके तहत DoT कंपनियों को स्पेक्ट्रम का आवंटन करेगा. ट्रायल के लिए कंपनियों को स्पेक्ट्रम 1 साल के लिए दिया जाएगा. Huawei को भी ट्रायल के लिए मंजूरी मिली है. इससे पहले चाइनीज़ कंपनी हुवावे के 5G ट्रायल में शामिल होने पर विवाद था. बता दें कि मार्च-अप्रैल में स्पेक्ट्रम नीलामी की डेडलाइन है. इसको देखते हुए जनवरी से 5G का ट्रायल शुरू होने जा रहा है.

    लेकिन इसी के बीच इस बात पर भी विचार होना शुरू हो गया है कि 5जी टेक्नॉलजी के भारत में आने पर वह किस तरह से देश के लिए और लोगों के लिए फायदेमंद साबित होगा. तो हम आपको बताते हैं कि इस तकनीक के देश में आ जाने के बाद किस तरह के बदलाव आएंगे और कैसे कैसे फायदे होंगे-

    >> 5जी आने के बाद टेलीमेडिसिन के क्षेत्र में भी काफी प्रोग्रेस होगी. क्योंकि इसकी मदद से रोबोटिक सर्जरी की जा सकेगी. टेक्नॉलजी की एक खासियत यह होती है कि इससे गलतियां होने की संभावना काफी कम होती हैं और एक्युरेसी रेट काफी अच्छा होता है.

    >> 5जी की वजह से एग्रीकल्चर की फील्ड में भी भारत को काफी फायदा मिल सकता है. इस तकनीक से काफी सटीकता के सटीक तरीके से खेत की मिट्टी के बारे में पता लगाया जा सकता है. इससे सही मात्रा में फर्टिलाइज़र, पानी और पेस्टीसाइड्स का प्रयोग करके पैदावार को भी बढ़ाया जा सकेगा. पानी की कमी जिस तरह से आज कल समस्या बनती जा रही है उसे देखते हुए सिंचाई के लिए ज़रूरी पानी ही खेतों तक पहुंचाया जाएगा जिस पानी की बर्बादी को भी रोका जा सकेगा.

    >> 5जी की सहायता से ट्रैफिक के मामलों में भी काफी सहायता मिलेगी. इससे सेल्फ ड्राइविंग कार को भारत में लॉन्च करने में मदद मिलेगी. क्योंकि डेटा की स्पीड तेज़ होने की वजह से ऐक्सीडेंट होने की संभावनाएं काफी कम होंगी.

    >> मौजूदा समय में भारत आईटी सेक्टर में काफी तेजी से विकास कर रहा है. तेज़ कनेक्टिविटी और संचार माध्यमों में तेजी से विकास होने के कारण भारत की जीडीपी तेज़ी से बढ़ेगी.

    >> आर्टीफीशियल इंटेलीजेंस को रोज़मर्रा की जिंदगी से जोड़ने में काफी मदद मिलेगी, क्योंकि आर्टीफीशियल इंटेलीजेंस के लिए तेज़ डेटा कम्युनिकेशन की जरूरत होती है जो कि इससे मिल जाएगा.

    हालांकि, इन सबके बावजूद कुछ एक्सपर्ट्स का कहना है कि भारत में 5जी को ला पाना आसान नहीं है क्योंकि भारत में इसके लिए जरूरी इन्फ्रास्ट्रक्चर नहीं है.

    Tags: Internet users, Tech news, Tech news hindi, Telecom business

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर