TikTok के प्रवक्ता का बड़ा बयान कहा- सरकार के आदेश पर हमे कोई कानूनी कार्रवाई नहीं करनी

TikTok के प्रवक्ता का बड़ा बयान कहा- सरकार के आदेश पर हमे कोई कानूनी कार्रवाई नहीं करनी
TikTok के प्रवक्ता का बड़ा बयान कहा- सरकार के आदेश पर कोई कानूनी कार्रवाई नहीं

भारत-चीन के बीच हिंसक झड़प के बाद अब तनाव चरम पर है. आपको बता दें कि भारत ने हाल ही में चीन के 59 ऐप को बैन कर दिया है. TikTok के प्रवक्ता ने कहा कि हम सरकार के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं ताकि देश की चिंताओं को दूर किया जा सके. हम भारत सरकार के कानूनों और नियमों का पालन करते हैं. हमारे उपयोगकर्ताओं का डेटा सुनिश्चित है और रहेगा ऐसी हमारी प्राथमिकता है.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत-चीन के बीच हिंसक झड़प के बाद अब तनाव चरम पर है. आपको बता दें कि भारत ने हाल ही में चीन के 59 ऐप को बैन कर दिया है. आपको बता दें कि पहले आई कुछ रिपोर्ट्स में कहा जा रहा था कि TikTok कंपनी प्रतिबंध लगाने के लिए भारत सरकार के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की योजना बना रही है. लेकिन आज TikTok के प्रवक्ता ने कहा कि हम सरकार के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध हैं ताकि देश की चिंताओं को दूर किया जा सके. हम भारत सरकार के कानूनों और नियमों का पालन करते हैं. हमारे उपयोगकर्ताओं का डेटा सुनिश्चित है और रहेगा ऐसी हमारी प्राथमिकता है.



इससे पहले टिकटॉक इंडिया के हेड दिया था ये बयान 
टिकटॉक इंडिया के हेड निखिल गांधी ने एक बयान में कहा कि, हमें स्पष्टीकरण और जवाब देने के लिए संबंधित सरकारी हितधारकों से मिलने के लिए आमंत्रित किया गया है. आपको बता दें कि टिकटॉक, यूसी ब्राउजर, वीचैट, शेयरइट और कैम स्केनर उन 59 चीन के ऐप्स में शामिल हैं, जिन्हें सरकार द्वारा देशभर में बैन किया गया है. निखिल गांधी ने कहा, 'सरकार ने 59 ऐप्स पर अंतरिम प्रतिबंध लगाया है, जिनमें टिकटॉक भी शामिल है. हम इस प्रतिबंध के लिए सरकार से जल्द ही बात करने वाले हैं. टिकटॉक हमेशा की तरह डाटा और प्राइवेसी की सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्ध है. हम भारतीय यूजर्स का डाटा चीनी या किसी अन्य सरकार के साथ साझा नही करते हैं.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज