सावधान! Tinder समेत यह Dating ऐप्स लीक कर रही हैं आपकी निजी जानकारियां

Tinder

अगर आप डेटिंग ऐप्स (dating app) का इस्तेमाल करते हैं तो सावधान होने की जरूरत है...

  • Share this:
    डेटिंग ऐप्स का इस्तेमाल करने वालों को सावधान होने की ज़रूरत है. पॉपुलर डेटिंग ऐप्स (datings apps) टिंडर, (tinder) ग्रिंडर, (Grindr) OKक्युपिड (OKCupid) जैसे ऐप्स के यूज़र्स का डेटा खतरे में है. नार्वे कंज्यूमर काउंसिल (Norway consumer counsil) का दावा है कि इन ऐप्स पर मौजूद यूज़र्स की निजी जानकारियां एड टेक कंपनियों (Advertisement technology companies) के साथ शेयर की जा रही हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, डेटिंग ऐप्स से यूज़र्स का पर्सनल डेटा दूसरी कंपनियों के साथ शेयर करना यूरोपियन डेटा प्राइवेसी कानून का उल्लंघन है.

    (ये भी पढ़ें-Jio का सस्ता प्लान, 125 रुपये में मिलती है मुफ्त कॉलिंग! 14GB डेटा का फायदा भी...)

    नार्वे कंज्यूमर काउंसिल सरकार की मदद से चलने वाला नॉनप्रॉफिट ग्रुप है, जिसने बताया कि ऑनलाइन विज्ञापन का काम करने वाली कंपनियां स्मार्टफोन यूज़र्स की प्रोफाइल को ट्रैक कर रही हैं. नार्वे की इस काउंसिल ने एक साइबर सिक्योरिटी कंपनी Mnemonic के साथ मिलकर 10 एंड्रॉएड ऐप्स पर स्टडी की है. इस दौरान पाया गया कि ये ऐप्स 135 अलग-अलग थर्ड पार्टी एड कंपनियों से अपने यूज़र्स का डेटा शेयर कर रही है.

    Grindr App
    Grindr App


    (ये भी पढ़ें- खुशखबरी! सस्ता हो गया Samsung का 3 कैमरे, 4000mAh की बैटरी वाला यह स्मार्टफोन) 

    इस पर उन्होंने कहा कि यह स्थिति पूरी तरह से कंट्रोल से बाहर है. इस पर काउंसिल ने यूरोपियन रेगूलेटर्स से सख्त जनरल डेटा प्राइवेसी रेगूलेशन (GDPR) कानून लागू करने को कहा है. रिपोर्ट में यह भी बताया गया कि Period tracker ऐप और Virtual makeup app Perfect 365 भी ऐसे ऐप्स हैं, जो यूज़र्स का निजी डेटा एड सर्विसेज़ के साथ शेयर करती हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.