Cyber Attack: स्टाफ को हैक कर इंटर्नल टूल्स का एक्सेस लिया, फिर हुई सबसे बड़ी हैकिंग

हैकिंग मामले में ट्विटर ने दिया जवाब
हैकिंग मामले में ट्विटर ने दिया जवाब

हैकिंग मामले में ट्विटर ने बताया कैसे अटैकर्स ने पहले स्टाफ को हैक कर उनसे एक्सेस लिए और इन अकाउंट्स का गलत यूज किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 16, 2020, 12:00 PM IST
  • Share this:
माइक्रो ब्लॉगिंग ट्विटर पर हुए साइबर अटैक के मामले में ट्विटर ने एक स्टेटमेंट दिया है. इसमें शुरुआती जांच के आधार पर कुछ अपडेट्स जारी किए गए हैं. ट्विटर ने स्टेटमेंट जारी करते हुए कहा कि इसकी जांच चल रही है, हमने सोशल इंजीनियरिंग अटैक डिटेक्ट किया है. ये उन लोगों ने किया है जिन्होंने हमारे कुछ कर्मचारियों के अकाउंट्स को इंटर्नल सिस्टम्स और टूल्स के सहारे सफलतापूर्वक टारगेट किया था.' कंपनी ये पता लगाने की कोशिश कर रही है कि अटैकर्स ने और किस तरह से इन अकाउंट्स का गलत यूज किया है और किस तरह की जानकारियों को ऐक्सेस किया है.

बुधवार को देर रात सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर अब तक का सबसे बड़ा साइबर अटैक हुआ. जिसमें अमेरिका के कई हाई प्रोफाइल लोगों के अकाउंट को हैक कर आम लोगों से बिटकॉइन के रूप में पैसा मांगा गया. इस हमले में कई टेक दिग्गज सहित बड़े बिजनेसमैन और पॉलिटिशियन्स के अकाउंट्स भी शामिल हैं.

ये भी पढ़ें : ALERT! आपके पास आया फोन बैंक अधिकारी या फिर किसी फ्रॉड का, ऐसे करें पता



सेफ्टी के चलते अकाउंट को लिमिटेड ऐक्सेस दिया- मामले की जानकारी मिलते ही सभी प्रभावित अकाउंट्स को तत्काल लॉक कर दिया गया और अटैकर्स द्वारा किए गए ट्वीट्स को भी तुरंत डिलीट कर दिया गया. कंपनी ने रिस्क को कम करने के लिए ये महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए ट्विटर अकाउंट्स के कुछ फंक्शन्स को लिमिट कर दिया है. जैसे वेरिफाइड अकाउंट्स को, जिनमें हैकिंग नहीं हुई थी उन्हें भी सेफ्टी रीजन्स की वजह से लिमिट किया गया है.
इन हस्तियों के अकाउंट हुए हैक- जिन लोगों के अकाउंट हैक किए गए उनमें अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा, माइक्रोसॉफ्ट के फाउंडर बिल गेट्स, दुनिया के सबसे अमीर और इन्वेस्टमेंट गुरु वारेन बफे शामिल हैं. अकाउंट हैक करने के बाद सभी अकाउंट्स से ट्वीट कर बिटकॉइन के रूप में पैसा मांगा जा रहा था. हर किसी के अकाउंट से एक ही ट्वीट किया गया, आप बिटक्वाइन के जरिए पैसा भेजिए और हम आपको दोगुना पैसा देंगे. आप 1000 डॉलर का बिटक्वाइन भेजो, मैं 2000 डॉलर वापस भेजूंगा. हालांकि, अभी इस मुश्किल को दूर कर लिया गया है.

ये भी पढ़ें : WhatsApp ने यूज़र्स को दी ज़रूरी सलाह- इस एक गलती से बैन हो सकता है अकाउंट, चैट पर भी खतरा

लाखों यूजर्स को लगी करोड़ों रुपये की चपत- साइबर सिक्योरिटी हेड करने वाले अल्पेरोविच का कहना है कि आम लोगों को कुछ हदतक नुकसान पहुंचा है. इस हैक के बीच हैकर्स करीब 300 लोगों से 1 लाख 10 हजार डॉलर बिटक्वाइन निकाल पाए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज