लोगों में ट्रोल होने का डर खत्म करने के लिए Twitter जल्द ला रहा है एक जबरदस्त फीचर, जानिए कैसे करेगा ये काम?

लोगों में ट्रोल होने का डर खत्म करने के लिए Twitter जल्द ला रहा है एक जबरदस्त फीचर, जानिए कैसे करेगा ये काम?
लोगों में ट्रोलिंग का डर खत्म करने के लिए Twitter जल्द ला रहा है एक जबरदस्त फीचर, जानिए कैसे करेगा ये काम?

ट्विटर (Twitter New Feature) एक नए फीचर की टेस्टिंग कर रहा है. जिस के जरिए एक ऐसा फीचर लाया जा रहा है की अब ट्विटर यूजर्स मैसेज करते समय यह चुन सकेंगे कि कौन लोग ट्वीट पर रिप्लाई कर सकते हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. सोशल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म ट्विटर (Twitter) जल्द एक नया फीचर ला रहा है जिस पर उसकी टेस्टिंग का काम चल रहा है. दरअसल ट्विटर एक नए फीचर की टेस्टिंग कर रहा है. जिस के जरिए एक ऐसा फीचर लाया जा रहा है की अब ट्विटर यूजर्स मैसेज करते समय यह चुन सकेंगे कि कौन लोग ट्वीट पर रिप्लाई कर सकते हैं. इसमें सभी यूजर्स को शामिल करने, जिन लोगों को आप फॉलो कर रहे हैं या जिनका ट्वीट में जिक्र है, ये ऑप्शन चुनने के लिए मिलेंगे. इसका मतलब है कि ट्विटर अब आपको यह तय करने देगा कि कौन लोग आपके ट्वीट पर रिप्लाई कर सकते हैं लेकिन हर व्यक्ति इसे सीधे इस्तेमाल नहीं कर सकता है. ट्विटर ने यह कन्फर्म किया है कि यह फीचर इस साल के आखिर तक सभी यूजर्स के लिए आ जाएगा.

कैसे काम करेगा ये फीचर?
आधिकारिक हैंडल से ट्विटर ने बताया है कि यह फीचर कैसे काम करता है. उसने कहा है कि इस फीचर के साथ सभी लोग जो यूजर के ट्वीट को इसके आने से पहले देख सकते थे, वे अब भी देख, लाइक और रिट्वीट कर सकते हैं, लेकिन जिन लोगों को मंजूरी होगी जो वे लोग ही रिप्लाई कर सकेंगे. इसके अलावा ट्विटर ऐसे सीमित रिप्लाई वाले ट्वीट को लेबल भी करेगा, जिससे दूसरे यूजर्स दूसरे यूजर्स तुरंत यह बता पाएंगे कि वे इस पर रिप्लाई कर सकते हैं या नहीं.

ये भी पढ़ें: इस कंपनी के 5G फोन की धूम! करोड़ से ज़्यादा फोन बेच कर नंबर 1 पर बनाई जगह



रिपोर्ट्स के मुताबिक, सोशल मीडिया साइट ने बताया कि दुनिया भर के ट्विटर यूजर्स का केवल एक छोटा भाग ही इस फीचर की टेस्टिंग में हिस्सा ले सकेगा. इसमें एंड्रॉयड, आईओएस के साथ वेब ऐप यूजर्स भी शामिल होंगे.



क्यों जरूरी है ये फीचर?
ट्वीट पर रिप्लाई कर सकने वाले लोगों को सीमित करने का यह फीचर प्लेटफॉर्म में होने वाले ऑनलाइन उत्पीड़न को रोकने में मदद करेगा जिसकी घटनाएं पूरी दुनिया में लगातार बढ़ रही हैं. इसके अलावा कुछ चुनिंदा लोगों तक रिप्लाई को सीमित करने से यूजर्स ज्यादा बेहतर बातचीत कर सकेंगे जिसमें उन्हें किसी तरह की ट्रोलिंग का डर नहीं होगा.

ये भी पढ़ें: चेतावनी! लॉकडाउन के बीच मोबाइल में आ सकता है खतरनाक वायरस, CBI ने किया अलर्ट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading