• Home
  • »
  • News
  • »
  • tech
  • »
  • आधार वेरिफिकेशन के लिए फेस रिक्गनाइजेशन में देरी, अब अगस्‍त में होगी शुरुआत

आधार वेरिफिकेशन के लिए फेस रिक्गनाइजेशन में देरी, अब अगस्‍त में होगी शुरुआत

आधार जारी करने वाले यूआईडीएआई ने चेहरे के जरिए सत्यापन (फेस रिक्गनाइजेशन) शुरू करने की योजना को एक महीने के लिए टाल दिया है.

आधार जारी करने वाले यूआईडीएआई ने चेहरे के जरिए सत्यापन (फेस रिक्गनाइजेशन) शुरू करने की योजना को एक महीने के लिए टाल दिया है.

यूआईडीएआई आधार के लिए सत्यापन की मौजूदा आइरिस व अंगुलियों के निशान के साथ साथ यह नई सुविधा शुरू कर रही है ताकि आधार बनवाते समय सत्यापन के लिए एक और विकल्प मिल सके.

  • Share this:
    आधार जारी करने वाले यूआईडीएआई ने चेहरे के जरिए सत्यापन (फेस रिक्गनाइजेशन) शुरू करने की योजना को एक महीने के लिए टाल दिया है. अब यह सुविधा एक अगस्त से शुरू होगी. भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकार (यूआईडीएआई) के सीईओ अजय भूषण पांडे ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि इस नई सुविधा की तैयारी के लिए कुछ और समय चाहिए. पहले इसे एक जुलाई से शुरू करने का कार्यक्रम था.

    यूआईडीएआई आधार के लिए सत्यापन की मौजूदा आइरिस व अंगुलियों के निशान के साथ साथ यह नई सुविधा शुरू कर रही है ताकि आधार बनवाते समय सत्यापन के लिए एक और विकल्प मिल सके. पांडे ने कहा,‘हम इस पर काम कर रहे हैं.’ उन्होंने उम्मीद जताई कि संस्थान एक अगस्त से इसे लागू कर पाएगा.

    यूआईडीएआई ने कहा था कि चेहरे से सत्‍यापन केवल आंशिक रूप से मान्‍य होगी और इसके साथ फिंगरप्रिंट या आंखों की पुतली या ओटीपी का उपयोग करना होगा. यह सुविधा इसलिए शुरू की गई है क्‍योंकि कई लोगों की अंगुलियों के निशान उम्र या कामकाज की वजह‍ से मिट जाते हैं ऐसे में उन्‍हें परेशानी होती है. चेहरे से सत्‍यापन के चलते ऐसे लोगों को मदद मिलेगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज