• Home
  • »
  • News
  • »
  • tech
  • »
  • Vodafone-Idea ने बनाया नया रिकॉर्ड! 5G ट्रायल में हासिल की 3.7 Gbps की रफ्तार, जानें आपको क्‍या होगा फायदा

Vodafone-Idea ने बनाया नया रिकॉर्ड! 5G ट्रायल में हासिल की 3.7 Gbps की रफ्तार, जानें आपको क्‍या होगा फायदा

वोडाफोन आइडिया ने 5G ट्रायल में सर्वोच्‍च स्‍पीड हासिल करने का दावा किया है.

वोडाफोन आइडिया ने 5G ट्रायल में सर्वोच्‍च स्‍पीड हासिल करने का दावा किया है.

दूरसंचार विभाग (DoT) ने वोडाफोन आइडिया (Vi) को 5जी नेटवर्क परीक्षणों के लिए पारंपरिक 3.5 गीगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम बैंड के साथ-साथ 26 गीगाहर्ट्ज जैसे हाई फ्रीक्‍वेंसी बैंड (High Frequency Bands) भी आवंटित किए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. कर्ज में डूबी टेलिकॉम कंपनी वोडाफोन-आइडिया (Vodafone-Idea) ने बड़ा दावा किया है. कंपनी का कहना है कि महाराष्‍ट्र के पुणे में 5जी परीक्षण (5G Trials) के दौरान उसने 3.7 गीगाबाइट प्रति सेकेंड (3.7 Gbps) की सर्वोच्च इंटरनेट स्‍पीड हासिल की है. अगर ये दावा सही है तो कंपनी ने 5जी परीक्षण के दौरान भारत में किसी भी टेलिकॉम कंपनी (Telecom Companies) की ओर से अब तक हासिल की गई सबसे तेज स्‍पीड हासिल की है. कंपनी ने गांधीनगर और पुणे में मिड-बैंड स्पेक्ट्रम में 1.5 जीबीपीएस डाउनलोड की गति (Download Speed) दर्ज करने का भी दावा किया है.

    Vi ने कहां-कहां किया 5G परीक्षण?
    दूरसंचार विभाग (DoT) ने वोडाफोन आइडिया (Vi) को 5जी नेटवर्क परीक्षणों के लिए पारंपरिक 3.5 गीगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम बैंड के साथ-साथ 26 गीगाहर्ट्ज जैसे हाई फ्रीक्‍वेंसी बैंड (High Frequency Bands) भी आवंटित किए हैं. कंपनी ने कहा है कि वीआई ने पुणे शहर में क्लाउड कोर, नई पीढ़ी के ट्रांसपोर्ट और रेडियो एक्सेस नेटवर्क के एंड-टू-एंड कैप्टिव नेटवर्क के लैब सेट-अप में अपना 5G परीक्षण किया है. इस परीक्षण में वीआई ने मिलीमीटर वेव (MM Wave) स्पेक्ट्रम बैंड पर बहुत कम देरी के साथ 3.7 जीबीपीएस से अधिक की सर्वोच्च गति हासिल की गई है.

    ये भी पढ़ें- Gold Price: सोना मिल रहा 11000 रुपये सस्‍ता, फिर बना कमाई का मौका, जानें 2021 में कितने हो जाएंगे दाम

    5G से ग्राहकों को क्‍या होंगे फायदे?
    रिलायंस जियो, भारती एयरटेल और वोडाफोन के बाद एमटीएनएल के 5जी परीक्षण के आवेदनों को दूरसंचार विभाग ने मई 2021 में मंजूरी दी थी. सभी कंपनियों को दूरसंचार उपकरण निर्माताओं एरिक्सन, नोकिया, सैमसंग और सी-डॉट के साथ 6 महीने के परीक्षण के लिए मंजूरी दी गई है. बता दें कि 4G नेटवर्क की पीक स्पीड जहां 1 जीबीपीएस तक है. वहीं, 5G की पीक स्पीड 20 जीबीपीएस तक की होगी. इससे कनेक्टिविटी काफी बेहतर हो जाएगी. 5G टेक्नोलॉजी से वर्चुअल रियलिटी, क्लाउड गेमिंग और हेल्थकेयर सेक्‍टर के लिए नए रास्ते खुलेंगे. देश में बिना ड्राइवर वाली कारों को लॉन्‍च किए जाने की संभावना इसके जरिये पूरी होगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज