क्या है WhatsApp की नई पॉलिसी, जिसे नहीं मानने से अकाउंट होगा डिलीट? जानें इसके बारें में सबकुछ

वायरस हो रहे इस तरह के मैसेज लिंक पर क्लिक करने से बचें. यह साइबर अपराधियों का बिछाया हुआ जाल हो सकता है.

वायरस हो रहे इस तरह के मैसेज लिंक पर क्लिक करने से बचें. यह साइबर अपराधियों का बिछाया हुआ जाल हो सकता है.

WhatsApp पर अभी तक आपके कंटेंट के एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड पॉलिसी का दावा किया जाता था लेकिन अब नई पॉलिसी के आने के बाद आपके डेटा पर कंपनी की पूरी नज़र रहेगी. आइए जानते हैं इस पॉलिसी के बारें में सबकुछ...

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 8, 2021, 8:09 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप वॉट्सऐप अपने यूजर के लिए नई प्राइवेसी पॉलिसी (Whatsapp New Privacy Policy) 8 जनवरी से लेकर आ रहा है. इस नई पॉलिसी में लेटेस्ट टर्म एंड कंडीशंसइस दी गई हैं, जिन्हें नहीं मानने पर आपका अकाउंट डिलीट हो जाएगा. कंपनी ने जो नई प्राइवेसी पॉलिसी पेश की है, उसमें यह भी बताया गया है कि वॉट्सऐप Facebook और Instagram के साथ कैसे काम करता है और कंपनी में इंटिग्रेशन ऑफर देता है.

ये है नई पॉलिसी

WhatsApp ने जो नई पॉलिसी पेश की है, उसे यूजर्स को 8 फरवरी 2021 तक एक्सेप्ट करना होगा. इसके लिए आप वॉट्सऐप के हेल्प सेंटर पर जा कर पॉलिसी में एग्री और नॉट नाउ का विकल्प चुन सकते हैं. जिसमें लिखा है कि हमारी सर्विसेज को ऑपरेट करने के लिए आपके वॉट्सऐप कंटेंट को Facebook और Instagram के साथ शेयर किया जाएगा. यूजर्स के पास नई पॉलिसी का पॉपअप आएगा, जिसे उन्हें एक्सेप्ट करना होगा. इसके लिए आप Agree पर टैप करते हैं तो आप कंपनी की नई पॉलिसी को अपनी सहमति देंगे.

ये भी पढ़ें : 108MP कैमरे वाले Xiaomi Mi 10i की आज है पहली सेल, मिलेंगे धांसू ऑफर
>> वॉट्सऐप ने एक ब्लॉगपोस्ट के जरिये यूजर्स को यह निर्देश दिया गया है कि वह एंटरप्राइमस प्राइवेसी पॉलिसी को अच्छे से पढ़ लें, जिससे वो यह जान पाएं कि उनकी जानकारी कैसे प्रोसेस की जाती है.

>> वॉट्सऐप ने कहा कि वह रोबॉटिक तकनीक के इस्तेमाल से यूटीलाइजेशन और लॉग-इन इन्फर्मेशन इकट्ठा करेगा.

>> इसके साथ ही वॉट्सऐप ग्रुप इंफो और प्रोफाइल फोटोग्राफ भी एकत्रित करेगा. यह रोबॉट के अलावा गैजेट, कनेक्शन और प्लेसमेंट की जानकारी भी एकत्र करता है.



>> इसके लिए ग्राहकों को लेन-देन डाटा, सेल गैजेट इंफो, आईपी डील और डाटा शेयर करने के लिए सहमित देनी होगी.

>> जैसे आप किसी ई-कॉमर्स साइट के प्रोडक्ट को स्टेटस पर शेयर करते हैं तो फेसबुक-इंस्टाग्राम भी उससे जुड़े एड आपको दिखने लगेंगे.

>> इससे कंपनी को पता होगा कि कौन-सा कंटेंट ज्यादा फॉरवर्ड किया जा रहा है. फेक न्यूज ट्रैक को ट्रैक करने में ये जानकरी काम आएगी. इसके अलावा बिजनेस अकाउंट से शेयर होने वाली कैटलॉग का एक्सेस भी होगा.

Youtube Video


ये भी पढ़ें : बिना इंटरनेट के किसी को भी भेजें अपनी Location, अपनाएं ये ट्रिक...

कितनी सुरक्षित है नई पॉलिसी

नई पॉलिसी को आपको एक्सेप्ट करना है या नहीं ये पूरी तरह से आपके ऊपर है. अगर आप एग्री नहीं करेंगे तो आपका अकाउंट बंद हो जाएगा और अगर आप एग्री करते हैं तो आपको वॉट्सऐप पर कुछ भी एक्टिविटी करने से पहले अपनी सेफ्टी सिक्योरिटी का पूरा ख्याल रखना होगा. वॉट्सऐप पर केवल वही शेयर करें जिसके लीक होने से आपको कोई परेशानी न हो.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज