अपना शहर चुनें

States

WhatsApp ने यूज़र्स को बताया- नई प्राइवसी पॉलिसी में क्या बदल जाएगा, और क्या नहीं! यहां जानें

WhatsApp ने यूज़र्स को बताया है कि नई पॉलिसी में क्या बदल जाएगा.
WhatsApp ने यूज़र्स को बताया है कि नई पॉलिसी में क्या बदल जाएगा.

WhatsApp ने यूज़र्स को बताया कि नई प्राइवेसी पॉलिसी लागू होने के बाद वॉट्सऐप पर यूज़र्स के लिए क्या बदल रहा है और क्या नहीं बदल रहा है, आइए यहां जानते हैं इसके बारे में सबकुछ...

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 21, 2021, 3:08 PM IST
  • Share this:
वॉट्सऐप (WhatsApp) एक बार फिर से अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी (WhatsApp privacy policy) को लेकर चर्चा में हैं. फेसबुक की कंपनी वॉट्सऐप, अपनी विवादास्पद प्राइवसी पॉलिसी को समझा रही है. कंपनी यूज़र्स को ये बताने का एक और प्रयास कर रही है कि यूज़र्स के लिए वास्तव में बहुत कुछ नहीं बदल रहा है. पॉलिसी लागू होने के बाद वॉट्सऐप पर यूज़र्स के लिए क्या बदल रहा है और क्या नहीं बदल रहा है, आइए यहां जानते हैं इसके बारे में सबकुछ...

>>क्या नहीं बदल रहा है: कंपनी ने स्पष्ट किया है कि उपयोगकर्ताओं के बीच शेयर की गई सभी मीडिया और मीडिया फाइलें एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड रहेंगी. इसका मतलब है कि न तो वॉट्सऐप और न ही इसकी पेरेंट कंपनी फेसबुक आपके मैसेज को पढ़ पाएगी.

>>बिज़नेस की बात करे, तो ये ऑप्शनल होगा. मतलब ये आपकी चॉइस है कि आप अपना नंबर किसी ब्रैंड / कंपनी के साथ शेयर करना चाहते हैं या नहीं.



>>वॉट्सऐप ने जोर दिया है कि कंपनी बिज़नस के साथ यूजर्स के कांटैक्ट को शेयर नहीं करेगी. कंपनी यह भी क्लेम करती है कि पॉलिसी बिज़नस को, यूजर्स के अप्रूवल के बिना, उनसे कांटैक्ट करने से रोकती है.
(ये भी पढ़ें- बेहद सस्ता हो गया Samsung का 3 कैमरे वाला दमदार स्मार्टफोन, बजट कीमत में मिलेगी 6000mAh बैटरी)

>>वॉट्सऐप न्यू पॉलिसी को एक्सप्लेन करते हुए कहता है,’ये यूज़र के ऊपर है कि आप अपना नंबर किसी बिज़नेस के साथ शेयर करते हैं या नहीं और आप किसी भी समय किसी बिज़नेस को ब्लॉक कर सकते हैं.’

>>वॉट्सऐप अपने प्लेटफॉर्म पर थर्ड-पार्टी के बैनर ऐड की अनुमति नहीं देता है. लेकिन अगर कंपनी कभी ऐसा करती हैं, तो इस प्राइवसी पॉलिसी को अपडेट किया जाएगा.

>>कंपनी का कहना है, ‘आपकी एक्सैप्टेन्स न्यू टर्म्स एंड सर्विस के लिए, वॉट्सऐप की अपनी पेरेंट कंपनी फेसबुक के साथ यूज़र्स डेटा शेयर करने की एबिलिटी का विस्तार नहीं करती है.’

क्या बदल रहा है:

--आप फोन या ईमेल की तुलना में तेजी से काम करने के लिए वॉट्सऐप पर अधिक बिज़नेस से कॉन्टैक्ट कर पाएंगे.

(ये भी पढ़ें-  BSNL का अब तक का सबसे सस्ता प्लान! सिर्फ 47 रुपये में पाएं 14GB डेटा और फ्री कॉलिंग) 

--ये पूरी तरह से ऑप्शनल है, कंपनी का कहना है कि वॉट्सऐप अपनी ओर से किसी भी कंपनी/ब्रैंड के साथ यूज़र्स का नंबर शेयर नहीं करेगा.

--अक्सर लोग फेसबुक या इंस्टाग्राम पर बटन को तलाशते हैं, जिसे आप वॉट्सऐप का उपयोग करके उन्हें मैसेज देने के लिए क्लिक कर सकते हैं.

--फेसबुक पर अगर आप इन विज्ञापनों पर क्लिक करना चुनते हैं, तो इसका उपयोग आपके द्वारा देखे जाने वाले विज्ञापनों को पर्सनलाइज्ड करने के लिए किया जा सकता है. फेसबुक और वॉट्सऐप एंड-टु-एंड एन्क्रिप्टेड मैसेज को नहीं देख सकते हैं.

--यूज़र्स को अपने वॉट्सऐप अकाउंट का उपयोग जारी रखने के लिए नई पॉलिसी को एक्सैप्ट करने की आवश्यकता है. अगर यूज़र्स नई डैडलाइन, यानी 15 मई तक न्यू प्राइवसी पॉलिसी को एक्सैप्ट नहीं करते हैं, तो वे आगे अपने वॉट्सऐप अकाउंट का उपयोग नहीं कर पाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज