होम /न्यूज /तकनीक /

Xiaomi ने ऑटोनॉमस ड्राइविंग के लिए पायलट टेक्नोलॉजी लॉन्च की, जानिए क्या है यह

Xiaomi ने ऑटोनॉमस ड्राइविंग के लिए पायलट टेक्नोलॉजी लॉन्च की, जानिए क्या है यह

Xiaomi ने ऑटोनॉमस ड्राइविंग के लिए पायलट टेक्नोलॉजी लॉन्च की

Xiaomi ने ऑटोनॉमस ड्राइविंग के लिए पायलट टेक्नोलॉजी लॉन्च की

चीनी ब्रांड Xiaomiने ऑटोनॉमस ड्राइविंग के लिए पायलट टेक्नोलॉजी लॉन्च कर दी है. कंपनी ने अपनी R&D टीम के लिए Xiaomi ने दुनिया भर के 500 से अधिक विशेषज्ञों को काम पर रखा है.

हाइलाइट्स

Xiaomi ने ऑटोनॉमस ड्राइविंग के लिए पायलट टेक्नोलॉजी लॉन्च की.
ऑटोनॉमस ड्राइविंग सोल्यूशन को पायलट टेक्नोलॉजी कहा जाता है.
इसके लिए Xiaomi ने 500 से अधिक विशेषज्ञों को काम पर रखा है.

नई दिल्ली. चीनी ब्रांड Xiaomiने ऑटोनॉमस ड्राइविंग के लिए पायलट टेक्नोलॉजी लॉन्च कर दी है. कंपनी के CEO Lei Jun ने ऑटोनॉमस ड्राइविंग के लिए Xiaomi पायलट टेक्नोलॉजी की पहली प्रगति रिपोर्ट जारी की है. GSMArena के अनुसार Xiaomi के फुली इंटरनल डेवलप ऑटोनॉमस ड्राइविंग सोल्यूशन को पायलट टेक्नोलॉजी कहा जाता है. कंपनी ने रिसर्च एंड डेवलपमेंट टीम के गठन और इसे सबसे एडवांस सेल्फ-ड्राइविंग तकनीक के रूप में संदर्भित करने के लिए 500 मिलियन डॉलर देने का वादा किया था.

गौरतलब है कि अपनी R&D टीम के लिए Xiaomi ने दुनिया भर के 500 से अधिक विशेषज्ञों को काम पर रखा है. सबसे लेटेस्ट इनोवेशन और टेक्नोलॉजी तक पहुंच सुनिश्चित करने के लिए कंपनी ने कई अधिग्रहण और रणनीतिक निवेश किए हैं. लेई जून का दावा है कि Xiaomi की ऑटोनॉमस तकनीक आंतरिक रूप से विकसित मैथडोलॉजी का उपयोग कर रही है.

300 मिलियन डॉलर और खर्च करेगी कंपनी
कंपनी अपनी लॉन्ग टर्म औद्योगिक रणनीतिक कैपेबलिटी के लिए 300 मिलियन डॉलर जोड़ रही है. यह निवेश दस से अधिक पहले से संचालित व्यवसायों में डायरेक्ट हिस्सेदारी पर जोर देता है जो Autonomous ड्राइविंग स्पेस में सेंसर से लेकर एक्चुएटर्स तक हर चीज से निपटते हैं. Xiaomi यह सुनिश्चित करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है कि उसके पास सप्लाई और टेक्नोलॉजी तक निरंतर एक्सेस मिल सके.

यह भी पढ़ें- Xiaomi ने पेश किया साइबरवन, लोगों के इशारे और इमोशंस को समझेगा रोबोट

तेजी से अपडेट करने की अनुमति
कंपनी एक फुल स्टैक स्ट्रेटिजी का उपयोग करती है. इसे सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर पर पूर्ण नियंत्रण देती है, और पूरी तरह से इन-हाउस ऑटोनॉमस ड्राइविंग एल्गोरिदम विकसित करती है. यह रणनीति व्यवसाय को क्लोज्ड-लूप डेटा क्षमताओं के साथ पूर्ण स्वामित्व समाधान बनाने में सक्षम बनाती है. यह यूजर्स द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर को तेजी से अपडेट करने की अनुमति देता है.

अत्याधुनिक सेवाओं को जोड़ने का लक्ष्य
असिस्टिड रिजर्व पार्किंग स्पेस या ऑटोनॉमस वैलेट पार्किंग Xiaomi के दिलचस्प इनोवेशन हैं. GSM एरिना की रिपोर्ट के अनुसार कंपनी की योजना ऑटोमैटिक रोबोटिक आर्म चार्जिंग सहित अत्याधुनिक सेवाओं को जोड़ने की है.

Tags: Technology, Xiaomi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर