होम /न्यूज /तकनीक /YouTube ने भारत में जुलाई-सितंबर महीने में हटाए 17 लाख वीडियो, कंपनी ने बताई वजह

YouTube ने भारत में जुलाई-सितंबर महीने में हटाए 17 लाख वीडियो, कंपनी ने बताई वजह

17 लाख YouTube वीडियो को हटाया गया है.

17 लाख YouTube वीडियो को हटाया गया है.

यूट्यूब की 2022 की तीसरी तिमाही की रिपोर्ट से पता चला है कि कंपनी ने जुलाई और सितंबर 2022 के बीच यूट्यूब के सामुदायिक द ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

वैश्विक स्तर पर यूट्यूब ने इन दिशानिर्देशों के उल्लंघन के लिए अपने मंच से 56 लाख वीडियो को हटाया है.
मशीन द्वारा पकड़ में आए वीडियो में से 36 प्रतिशत को तत्काल हटा दिया गया.
दिशानिर्देशों के उल्लंघन के लिए मंच ने 73.7 करोड़ कमेंट भी हटाए गए हैं.

नई दिल्ली. यूट्यूब (YouTube) ने जुलाई-सितंबर तिमाही के दौरान कंपनी के सामुदायिक दिशानिर्देशों के उल्लंघन के लिए भारत में 17 लाख वीडियो हटाए हैं. गूगल के स्वामित्व वाली कंपनी ने मंगलवार को इस बात की जानकारी दी है. यूट्यूब की 2022 की तीसरी तिमाही की प्रवर्तन रिपोर्ट के अनुसार, जुलाई और सितंबर, 2022 के बीच यूट्यूब के सामुदायिक दिशानिर्देशों के उल्लंघन के लिए 17 लाख वीडियो को हटाया गया है.’

वैश्विक स्तर पर यूट्यूब ने इन दिशानिर्देशों के उल्लंघन के लिए अपने मंच से 56 लाख वीडियो को हटाया है. रिपोर्ट में कहा गया है कि मशीन द्वारा पकड़ में आए वीडियो में से 36 प्रतिशत को तत्काल हटा दिया गया. यानी इनको एक भी ‘व्यू’ नहीं मिला. वहीं 31 प्रतिशत वीडियो को एक से 10 ‘व्यू’ के बीच हटाया गया. रिपोर्ट में कहा है कि दिशानिर्देशों के उल्लंघन के लिए मंच ने 73.7 करोड़ कमेंट भी हटाए गए हैं.

(ये भी पढ़ें-  काम की बात! Gmail पर Block कर सकते हैं किसी का भी Email ID, काफी आसान है तरीका)

इससे पहले यूट्यूब ने भारत में 2022 के शुरुआती तीन महीने में 11 लाख से ज़्यादा वीडियो को डिलीट किया था. इसके अलावा यूट्यूब ने 2022 की पहली तिमाही में सामुदायिक दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने पर 44 लाख से ज्यादा अकाउंट भी डिलीट किए.

इनमें से ज़्यादातर चैनलों को कंपनी स्पैम नीतियों का उल्लंघन करने की वजह से हटाया गया था. रिपोर्ट के मुताबिक Google की कंपनी यूट्यूब से हटाए जाने वाले वीडियो में 90% से ज्यादा वीडियोज को फेक होने की वजह से हटाया गई थी.

(ये भी पढ़ें- iPhone पर फोटो/Video एडिट करने के लिए बेस्ट हैं ये ऐप्स, मिलते हैं यूनीक फिल्टर)

वहीं यूट्यूब पर हिंसक कंटेंट पोस्ट करने, सिक्योरिटी और प्राइवेसी गाइडलाइन्स (Security & Privacy Guidelines) को हटाने की वजह से भी काफी सारे वीडियो को हटा दिया गया था.  YouTube ने ऐसे कंटेंट को हटा दिया है जो बार-बार पोस्ट की गई, दोहराई कई किसी को टारगेट करने वाली थे.

कुछ चैनल या वीडियो यूज़र्स से किसी और चीज़ का वादा करते हैं, और फिर उन्हें किसी दूसरी साइट पर रीडायरेक्ट कर दिया जाता है, जिससे कि उन्हें क्लिक मिले, और वह उससे पैसे कमा सकें.
(इनपुट-भाषा से) 

Tags: App, Tech news, Tech news hindi, Youtube

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें