लाइव टीवी

अब मैकडोनाल्ड्स के बर्गर की ‘होम डिलिवरी’ करेगा जोमैटो, हुई साझेदारी

News18Hindi
Updated: January 15, 2020, 6:01 PM IST
अब मैकडोनाल्ड्स के बर्गर की ‘होम डिलिवरी’ करेगा जोमैटो, हुई साझेदारी
नॉर्थ और ईस्ट इंडिया के मैकडोनाल्ड प्रोडक्ट्स के लिए जोमैटो के जरिये भी आर्डर कर सकेंगे और उन्हें उनके घर पर इसकी डिलीवरी की जाएगी.

नॉर्थ और ईस्ट इंडिया के मैकडोनाल्ड प्रोडक्ट्स के लिए जोमैटो के जरिये भी आर्डर कर सकेंगे और उन्हें उनके घर पर इसकी डिलीवरी की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 15, 2020, 6:01 PM IST
  • Share this:
नई दिल्लीः खाने-पीने का सामान ऑर्डर करने वाले प्लेटफॉर्म जोमैटो (Zomato) ने मैकडॉनल्ड्स इंडिया (McDonalds India) के साथ भागीदारी हुई है. मैकडोनाल्ड्स ने बुधवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि इससे नॉर्थ और ईस्ट एरिया में उसकी डिलिवरी नेटवर्क काफी बढ़ जाएगा. कंपनी ने बयान में कहा गया है कि नॉर्थ और ईस्ट इंडिया के मैकडोनाल्ड प्रोडक्ट्स के लिए जोमैटो के जरिये भी आर्डर कर सकेंगे और उन्हें उनके घर पर इसकी डिलीवरी की जाएगी. यह सुविधा क्षेत्र के 125 से अधिक मैकडोनाल्ड्स रेस्टोरेंट में उपलब्ध होगी.

मैकडोनाल्ड्स इंडिया के सीनियर डायरेक्टर (नॉर्थ एंड ईस्ट एरिया ऑपरेशंस और ट्रेनिंग) रुद्र किशोर सेन ने कहा, 'हम ग्राहकों को बर्गर की डिलिवरी जोमैटो पर उपलब्ध करा के काफी उत्साहित हैं. इससे लोग अपने पसंदीदा मैकडोनाल्ड्स मेन्यू को काफी सुविधाजनक तरीके से एन्ज्वॉय कर पाएंगे.

ज़ोमैटो के मुख्य परिचालन अधिकारी (फूड डिलीवरी) मोहित सरदाना ने कहा कि देश में क्विक सर्विस रेस्टोरेंट (क्यूएसआर) से भागीदारी करना काफी अच्छा अनुभव है. उत्तर और पूर्वी भारत में मैकडोनाल्ड्स के रेस्टोरेंट का परिचालन कनॉट प्लाजा रेस्टोरेंट करता है. इस स्टेटमेंट में कहा गया कि जोमेटो का लाइव ऑर्डर ट्रैकिंग फीचर रेस्टोरेंट्स के साथ जुड़ा होगा, जिससे ग्राहक गर्म और ताज फूड का आनंद ले सकेंगे। जोमेटो फूड डिलिवरी के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर मोहित सरदाना ने कहा कि एक ऐसे ब्राड्स के साथ साझेदारी करना निश्चित रूप से बहुत अच्छा है, जिसने हमारे देश में क्विक सर्विस रेस्टोरेंट (QSR) सेगमेंट में क्रांति ला दी.

बता दें कि हाल ही में चीन की दिग्गज इंटरनेट कंपनी अलीबाबा की सहायक कंपनी एंट फाइनेंशियल ने जोमैटो में 15 करोड़ डॉलर यानी करीब 1050 करोड़ रुपये का निवेश किया था. पिछले साल जोमैटो ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) का अपना कारोबार जर्मनी की कंपनी डिलीवरी हीरो को 17.2 करोड़ डॉलर (करीब 1,220 करोड़ रुपए) में बेच दिया था. इसके अलावा उसने 10.5 करोड़ रुपए भी जुटाए थे. इसके बाद जोमैटो को मूल्य दो अरब डॉलर हो गया था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मोबाइल-टेक से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 6:01 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर