गोदाम में रखी हजारों क्विंटल प्याज सड़ी, मंत्री बोले- किसानों के फायदे के लिए सरकार उठाएगी घाटा

file photo

file photo

मध्य प्रदेश में प्याज खरीदी के फैसले के बाद भंडारण और वितरण की सरकार के पास कोई ठोस योजना नहीं है. इस मामले में नागरिक आपूर्ति मंत्री विजय शाह का कहना है कि किसानों के फायदे के लिए सरकार घाटा सहन करेगी.

  • Share this:

मध्य प्रदेश में प्याज खरीदी के फैसले के बाद भंडारण और वितरण की सरकार के पास कोई ठोस योजना नहीं है. इस मामले में नागरिक आपूर्ति मंत्री विजय शाह का कहना है कि किसानों के फायदे के लिए सरकार घाटा सहन करेगी.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की घोषणा के बाद प्रदेश में 71 खरीदी केंद्र से 8 लाख 22 हजार क्विंटल प्याज खरीदी गई है. किसानों को इसके लिए राशि का भी भुगतान किया जा रहा है.

इतनी बड़ी मात्रा में प्याज खरीदने के बाद अब सरकार के पास इसके भंडारण और वितरण को लेकर कोई योजना नहीं है, जिसके अभाव में हजारों क्विंटल प्याज रखे हुए ही सड़ गई हैं. इसका पूरा नुकसान प्रदेश सरकार को उठाना पड़ेगा.



प्रदेश सरकार के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री विजय शाह का कहना है कि, प्याज की खरीदी सरकार का काम नहीं है. प्याज के बंपर उत्पादन से तेजी से गिरे दामों और उससे किसानों के सामने खड़ी हुई आर्थिक समस्या से उबारने के लिए सीएम ने प्याज खरीदी की फैसला लिया था. विजय शाह का साफ कहना है कि किसानों के फायदे में सरकार को नुकसान भी उठाना पड़ा तो सरकार इसके लिए तैयार है.
गौरतलब है कि प्रदेशभर में प्याज खरीदी के बाद अब हजारों क्विंटल प्याद बाजार में पहुंचने से पहले ही सड़ने लगी है.  किसानों की मानें तो प्याज के भण्डारण में इस तरह की लापरवाही से अधिकतम 2 माह में शायद ही कुछ क्विंटल प्याज इंसान के खाने लायक स्थिति में बचेगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज