कोलकाता में रोड शो के जरिए निवेशकों को रिझा रहा झारखंड

कोलकाता में रोड शो के जरिए निवेशकों को रिझा रहा झारखंड
निवेशकों को रिझाने के लिए मुख्यमंत्री रघुवर दास का रोड शो शुक्रवार को कोलकाता में जारी है. रोड शो के बाद मुख्यमंत्री कोलकाता में संभावित निवेशकों के साथ एक के बाद एक लंबी बैठक भी करेंगे. साथ ही एंटरटेनमेंट सेक्टर के एक प्रमुख कार्निवल ग्रुप के साथ एक एमओयू भी होगा.

निवेशकों को रिझाने के लिए मुख्यमंत्री रघुवर दास का रोड शो शुक्रवार को कोलकाता में जारी है. रोड शो के बाद मुख्यमंत्री कोलकाता में संभावित निवेशकों के साथ एक के बाद एक लंबी बैठक भी करेंगे. साथ ही एंटरटेनमेंट सेक्टर के एक प्रमुख कार्निवल ग्रुप के साथ एक एमओयू भी होगा.

  • Pradesh18
  • Last Updated: August 19, 2016, 11:31 AM IST
  • Share this:
निवेशकों को रिझाने के लिए मुख्यमंत्री रघुवर दास का रोड शो शुक्रवार को कोलकाता में जारी है. रोड शो के बाद मुख्यमंत्री कोलकाता में संभावित निवेशकों के साथ एक के बाद एक लंबी बैठक भी करेंगे. साथ ही एंटरटेनमेंट सेक्टर के एक प्रमुख कार्निवल ग्रुप के साथ एक एमओयू भी होगा.

मुख्यमंत्री के साथ सीएस राजबाला वर्मा और अन्य अधिकारियों का एक समूह भी कोलकाता में हैं. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री इससे पहले नई दिल्ली, मुम्बई, बेंगलुरु और हैदराबाद में भी रोड शो कर चुके हैं. इन राज्यों में आयोजन के बाद कोलकाता के रोड शो को खास महत्व दिया जा रहा है.

27 निवेश प्रस्ताव प्राप्त



आपको बता दें कि मुम्बई में शिक्षा, स्वासथ्य सेवा और कौशल के अलावा चार क्षेत्रों में एक लाख करोड़ के 27 निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं. सिस्को और ओरेकल जैसे बड़े ग्रुप के साथ कुछ अनुबंधों पर हस्ताक्षर के बाद ये रोड शो मेक इन इंडिया में अहम भूमिका निभाएंगे. झारखंड सरकार रोजगार के अवसर को बढ़ावा देने और रोजगार के अवसर के पैदा करने और दुनिया भर के निवेशकों को लुभाने के लिए मनोरंजन के क्षेत्र को बढ़ावा दे रही है. यह सरकार के सामाजिक संरचना में सुधार लाने के प्रयास में शामिल है.
डीआईपीपी रैंकिंग में झारखंड टॉप फाइव में

IMG-20160819-WA0011

झारखंड कारोबार में सुधारों की दृष्टि से तेजी से विकासित हो रहा है. डीआईपीवी यानी डिपार्टॉटमेंट ऑफ इंडस्ट्रीयल पॉलिसी एंड प्रमोशन  रैकिंग के पहले पांच की सूची में अपनी जगह बनाए है. राज्य में वर्ष 2018 तक 12 गीगावाट से अधिक अतिरिक्त ऊर्जा का लक्ष्य रखा गया है. जिससे वर्ष 2019 तक क्षेत्रीय पावर हब के रूप में उभर सके.

 

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading