अपना शहर चुनें

States

चित्रकूट: पोर्न वीडियो बनाने वाले जेई के बारे में एक किशोर ने किया खुलासा, बच्चों को अलग फोन देता था जेई रामभवन

बच्चों का अश्लील वीडियो बनाने वाले इंजीनियर के बारे में एक किशोर ने किया खुलासा.
बच्चों का अश्लील वीडियो बनाने वाले इंजीनियर के बारे में एक किशोर ने किया खुलासा.

चित्रकूट (Chitrakoot) में सिंचाई विभाग (Irrigation Department) में तैनात जेई रामभवन द्वारा बच्चों के साथ यौन शोषण (Sexual Exploitation) करने वाले आरोपी के बारे में News18 से एक बच्चे ने बड़ा खुलासा किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 18, 2020, 10:07 PM IST
  • Share this:
चित्रकूट. चित्रकूट (Chitrakoot) में सिंचाई विभाग (Irrigation Department) में तैनात जेई रामभवन द्वारा बच्चों के साथ यौन शोषण (Sexual Exploitation) कर उनका पोर्न वीडियो (Porn videos) बनाकर देश-विदेश में बेचने के आरोप में सीबीआई (CBI) ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. इस मामले में न्यूज़ 18 के हाथों एक किशोर लगा है, जो रामभवन की काली करतूतों से पर्दा उठा रहा है.

नाबालिक किशोर ने आरोप लगाया है कि वह जेई के घर अक्सर जाता था और आरोपी जेई बच्चों को अपना पर्सनल फोन देता था जिस पर वह लोग यूट्यूब और गेम खेला करते थे. लड़के जेई के फोन पर घंटों समय बिताते थे और इसके बाद वह लोग घर चले आते थे, हालांकि नाबालिक किशोर ने आरोपी जेई के ऊपर किसी भी प्रकार की अश्लील हरकतें करने की कोई बात नहीं बताई है. जब मीडिया ने उनके बच्चे से पूछताछ कर रही थी इतने में बच्चे के घर वाले आक्रोशित हो गए जिस पर नाबालिग किशोर ने मीडिया से कुछ भी बताने से मना कर दिया. आरोपी जेई राम भवन 7 सालों से एसडीएम कॉलोनी में किराए के आवास पर रहता था, जिसको सीबीआई ने गिरफ्तार करने के बाद बाद जेल भेज दिया है और उसके घर पर ताला लगा है.

UP: गन्ने के खेत में बिखरे मिले 2000 और 500 के नोट, लूटने वालों की मच गई होड़



सीबीआई नई दिल्ली की स्पेशल यूनिट ने ऑनलाइन चाइल्ड सेक्सुअल एब्यूज़ एंड एक्सप्लॉईटेशन प्रिवेंशन/इन्वेस्टिगेशन (OCSAE) के तहत चित्रकूट से सिंचाई विभाग के एक जूनियर इंजीनियर राम भवन को गिरफ्तार किया था. इस पर चाइल्ड रेप और ऑनलाइन पोर्नोग्राफी के गंभीर आरोप लगे हैं.


सीबीआई टीम ने जब आरोपी को गिरफ्तार किया उसके पास से 8 लाख रुपये, चाइल्ड पॉर्नोग्राफी से संबंधित लैपटॉप, वेबकैम और वीडियो स्टोर करने की डिवाइस बरामद मिलीं इसके बाद हरकद में आते हुये योगी सरकार ने उसे नौकरी से निकाल दिया. साथ ही विभागीय जांच के भी आदेश दिये हैं.सीबीआई से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी ने बीते 10 साल में बांदा, चित्रकूट में 50 से ज्यादा बच्चों का यौन शोषण किया और उनका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर अपलोड किया और विदेशों तक में बेचा है. सीबीआई के मुताबिक रामभवन ये वीडियो देश और विदेशों में कई लोगों को बेचता था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज