अपना शहर चुनें

States

AAP विधायक सोमनाथ भारती जेल से रिहा, CM योगी पर फिर बोला हमला

आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती सुल्तानपुर जेल से रिहा हो गये हैं.
आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती सुल्तानपुर जेल से रिहा हो गये हैं.

दिल्ली (Delhi) के पूर्व कानून मंत्री और आम आदमी पार्टी के विधायक (MLA) सोमनाथ भारती (Somnath Bharti) आठ दिन बाद जेल से रिहा हो गये हैं. भारती सुलतानपुर (Sultanpur) की अमहट जेल में बंद थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 19, 2021, 8:55 PM IST
  • Share this:
सुलतानपुर. दिल्ली (Delhi) के पूर्व कानून मंत्री और मालवीय नगर विधानसभा सीट से विधायक (MLA) सोमनाथ भारती (Somnath Bharti) आठ दिन बाद जेल से रिहा हो गये हैं. भारती सुलतानपुर (Sultanpur) की अमहट जेल में बंद थे. भारती जब जेल(Jail) से रिहा हुए तो जेल के बाहर सैकड़ों की तादात में उनके समर्थक खड़े थे, जिन्होंने फूल की माला पहनाकर उनका स्वागत किया. साथ ही आम आदमी पार्टी और सोमनाथ भारती जिंदाबाद के नारे लगाए.

जेल से बाहर आने के बाद भारती ने नौ जनवरी को अमेठी में दिए गए बयान 'यूपी के अस्पतालों में कुत्ते के बच्चे पैदा होते हैं' पर सफाई दी. विधायक सोमनाथ भारती ने कहा कि, जो मैंने अमेठी में बयान दिया, सिद्धार्थ नाथ सिंह जो उत्तर प्रदेश के मंत्री हैं उनके विधानसभा में प्राइमरी हेल्थ सेंटर में मुझे पहले कमरे में एक कुत्ते के आठ बच्चे दिखाई दिए.जो हाल ही में पैदा हुए थे. भारती ने कहा कि उस वीडियो को मैंने जारी किया है.

उन्होंने कहा कि मैं बदहाली और नाकामी की तरफ इशारा कर रहा था. उसको तूल देना ये बीजेपी की नाकामी है. भारती ने कहा कि उस बदहाली की तरफ मैंने इशारा किया कि, जो मेडिकल सुविधाएं जनता को उपलब्ध करानी चाहिए थी योगी सरकार को वो उपलब्ध नहीं करा पा रही है. जिस अस्पताल में सुचारू रूप से काम चलना चाहिए था, इंसानों के बच्चे आने चाहिए थे वहां बच्चे नहीं आ पा रहा है. अस्पताल इस बदहाली में हैं कि वहां पर ना डाक्टर है ना कोई है. वहां पर आज उस बिल्डिंग में कुत्ते के बच्चे पैदा हो रहे हैं. मैं बदहाली और नाकामी की तरफ इशारा कर रहा हूं. उसको तूल देना ये बीजेपी की नाकामी है.





कांग्रेस ने अति पिछड़ा वर्ग का सम्मेलन कर विपक्ष पर साधा निशाना, कहा- पिछड़ों के दम पर सत्ता पाने वाले उनको भूल गये


भारती ने कहा मैं सुप्रीम कोर्ट जाऊंगा
सोमनाथ भारती ने रायबरेली मामले पर सफाई देते हुए कहा कि जब मैं निकल रहा हूं अपने कमरे से और वो (रायबरेली पुलिस) रोकना चाहते हैं और मैं पूछ रहा हूं कारण क्या है? सीआरपीसी में, आईपीसी में, कन्सिट्युशन ऑफ इंडिया में दिखाए कहां लिखा है कि, आप मुझे इस तरह से रोक सकते हैं. कोई आर्डर हो, कोई जज साहब का आर्डर हो, कोई बड़े अधिकारी का आर्डर हो, आपने 144 लगा रखी हो, तो बताइए. उन्होंने कहा कि मुझे पुलिस ने सरकार ने इशारे पर रोका है. इस मामले को लेकर मैं सुप्रीम कोर्ट का रुख करूंगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज